अब आपके अपार्टमेंट तक टीका लगाने आएगी गाड़ी:शहर में तैयार हो रही अपार्टमेंट की सूची; एक छत के नीचे लगेगी लोगों को वैक्सीन

पटनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

अब अपार्टमेंट में गाड़ी आएगी और एक कैंपस में ही कई फ्लैट में रह रहे परिवारों को टीका लग जाएगा। अपार्टमेंट में रजिस्ट्रेशन और वैक्सीनेशन दोनों काम आसानी से हो जाएगा। शहरी क्षेत्र में वैक्सीनेशन की संख्या बढ़ाने को लेकर प्रशासन ने अपार्टमेंट में संपर्क कर टीकाकरण का प्लान तैयार किया है।

शहरी क्षेत्र में वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमाी

शहरी क्षेत्र में वैक्सीनेशन के लिए टीका एक्सप्रेस को लगाया गया है। पटना में 40 गाड़ियों को लगाया गया है लेकिन इससे भी वैक्सीनेशन नहीं बढ़ पाया है। ऐसे में अब अपार्टमेंट का प्लान किया गया जा रहा है जिससे शहरी क्षेत्र में टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाई जा सके। 3 जून से टीका एक्सप्रेस को चलाया जा रहा है। पटना में 40 गाड़ियों को इस काम में लगाया गया है। लेकिन इसका परिणाम बेहतर नहीं मिल पा रहा है। 40 गाड़ियों को एक दिन में 8000 वैक्सीनेशन का टॉरगेट था। एक गाड़ी को प्रतिदिन 200 लोगों का टीकाकरण करना था लेकिन 17 दिन में मात्र 3198 लोगों का ही टीकाकरण हो पाया।

अंचलवार अपार्टमेंट से किया जा रहा संपर्क

पटना में अंचलवार अपार्टमेंट से एप्रोच किया जा रहा है। योजना है कि अचंलवार अपार्टमेंट को चिन्हित किया जाएगा इसके बाद वहां निर्धारित समय पर गाड़ी आएगी जो वैक्सीनेशन का काम करेगी। इसके संबंधित अपार्टमेंट में दिन और समय पहले से ही तय कर लहिया जाएगा जिससे फ्लैट में लोग पहले से मौजूद रहें और आसानी से सभी का वैक्सीनेशन किया जा सके। इसमें ऐसे लोगों को काफी राहत होगी जो बीमार हैं या फिर किसी कारण से घर से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं।

पटना में बढ़ाया जाएगा वैक्सीनेशन की रफ्तार

पटना में सोमवार तक कुल 1500571 लोगों का टीकाकरण हो चुका है। यह आंकड़ा पटना को देश के टॉप 10 जिलों में शामिल किया है। अब इसे आने वाले समय में और तेजी से बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। योजना ऐसी तैयार की जा रही है कि वैक्सीनेशन का आंकड़ा देश में अलग पहचान दे। इस फंडे पर काम किया जा रहा है। प्रशासन के मुताबिक पटना में 21 जून तक पहला डोज लेने वालों की संख्या 1144893 रही जबकि 355678 लोगों ने दूसरी डोज भी ले ली है। इसमें 60 वर्ष से उपर के कुल 262879 लोगों ने पहला और 96918 ने दूसरा डोज लिया है। 45 से 59 साल के कुल 288783 ने पहला डोज लिया है और 167041 ने दूसरा डोज लगवाया है। वहीं 18 से 44 वर्ष के कुल 449080 लोगों को पहला और 1925 लोगाें को टीके की दूसरी डाेज लगी है। इसी तरह फ्रंट लाइन वर्करों में 74627 लोगों पे पहली और 40503 ने दूसरी डोज ली है। सबसे पहले वैक्सीन लेने वाले हेल्थ वर्करों में 69524 लोगों ने पहली और 49291 लोगों ने दूसरी डोज ली है।

खबरें और भी हैं...