कोविड से जंग जीती:वीरू ने होम आइसोलेशन में कोरोना को दिया मात

हाजीपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आयुष मंत्रालय का काढ़ा व दवाइयों के सेवन से मिली सफलता, कहा- चूक से मिली सीख

सही तरीके से मास्क न पहनना। अनचाही चीजों को छूना और भीड़ में चले जाना। यह कुछ गलतियां थी, जिसने मुझे जीवन भर की सीख दी। 13 को अचानक तेज बुखार ने मेरे शरीर को तोड़ कर रख दिया था। ठीक अगले दिन सर्दी और बदन दर्द ने मेरी रातों की चैन भी छीन ली। 15 अप्रैल को मेरा कोरोना टेस्ट हुआ, जिसमें मैं पॉजिटिव पाया गया।‘’ ये बातें केयर में कार्यरत वीरु ने होम आइसोलेशन में रहकर कोरोना को मात देने के बाद कहीं। वीरु ने कहा कि जब कोरोना की रिपोर्ट आयी, उन्होंने इसे घर के सभी सदस्यों को बताया।

इस खबर को सुनकर उनकी पत्नी का रोकर बुरा हाल था। ऐसी परिस्थिति को देखते हुए उन्होंने अपनी पत्नी को समझाया कि उनके दफ्तर में भी कुछ लोगों ने होम आइसोलेशन में रहकर कोरोना संक्रमण को मात दी है। तब कहीं जाकर उनकी पत्नी का विश्वास बढ़ा। अच्छी बात यह रही कि उनके घर में किसी को संक्रमण नहीं हुआ। उन्होंने बताया पूरे होम आइसोलेशन के दौरान उनके परिवार वालों का पूरा सहयोग मिला।

टीका लेने के बाद भी हुए संक्रमित
वीरू ने कहा अच्छी क्वालिटी का मास्क न पहनना। जहां तहां की सतहों को छूने की आदत और भीड़ में भी चले जाने की आदत ने मुझे संक्रमित किया। मुझे विश्वास जरूर है कि टीकाकरण के दोनों डोज लेने के कारण ही मुझमें कोरोना का संक्रमण हावी नहीं हो पाया और मैं जल्द ही ठीक हो पाया’’।

खुद को एक कमरे में किया अलग
वीरु ने कहा पॉजिटिव आने पर सात दिनों तक उन्होंने अपने-आप को एक कमरे में समेट लिया। दिन में 6 बार आयुष मंत्रालय का बताया काढ़ा पिया। तीन से चार बार पानी का भाप लिया। सादा भोजन किया..अपने प्रत्येक बार के भोजन में उन्होंने नींबू और आंवले के अचार को जरूर शामिल किया। इसे लेने का मुख्य उद्देश्य विटामिन सी लेना था। उन्होंने बताया अस्पताल से उन्हें दवाइयों की एक किट भी मिली थी। उन दवाओं का सेवन उन्होंने नियमानुसार किया। छह दिनों में उनके सारे लक्षण चले गए। फिर भी परिवार से दूर ही रहे।

शौचालय में बरती सावधानी
वीरु कहते हैं होम आइसोलेशन में कहा जाता है कि आप अपना शौचालय भी लोगों से अलग रखिए, पर इसके लिए उनके पास ऑप्शन नहीं था। ‘‘मैंने मेरे अपने परिवार के सहयोग से इसका भी हल निकाला जो स्वच्छता ही थी।

तीन लेयर का मास्क जरूर पहनें
वीरु कहते हैं कोरोना से बचने के लिए तीन लेयर का मास्क और अनजान सतहों को नहीं छूना चाहिए। वहीं, भीड़ वाले इलाकें से तो बिल्कुल ही दूर रहना चाहिए।

खबरें और भी हैं...