तैयारी:हाजीपुर प्रखंड की 23 पंचायतों में वोटिंग आज सुबह सात से शाम 4 बजे तक होगा मतदान

हाजीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अक्षयवट राय स्टेडियम में पंचायत चुनाव को लेकर जॉइंट ब्रिफिंग करते डीएम एसपी व अन्य। - Dainik Bhaskar
अक्षयवट राय स्टेडियम में पंचायत चुनाव को लेकर जॉइंट ब्रिफिंग करते डीएम एसपी व अन्य।
  • हर बूथ व चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम ताकि निर्भीक होकर आप करें अपना मतदान

आइए गांवों में आदर्श सरकार चुनें। जात, धर्म और लोभ से ऊपर उठकर योग्य प्रत्याशियों को वोटिंग करें। क्योंकि आपका वोट बहुमूल्य है। आपके वोटों से ही गांवों की तस्वीर बदलेगी। सुबह सात बजे से वाेटिंग शुरू होगी। जो शाम चार बजे तक चलेगी। सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतेजाम किए गए हैं। आप निष्पक्ष व निर्भीक होकर मतदान करें। इस बार चार पद मुखिया, जिला परिषद, पंचायत समिति व वार्ड सदस्य के लिए ईवीएम से वोटिंग होगी। जबकि पंच और सरपंच का मतदान बैलेट पेपर के जरिए होगा। बुधवार आज सुबह 6: 00 मॉक पोल होगा। फिर 7:00 बजे से वोटिंग। मतदान केंद्र के 200 मीटर के अंदर भीड़ नहीं लगाना है। इन जगहों पर कोई प्रत्याशी और अन्य लोग प्रचार प्रसार के लिए बैनर नहीं लगा सकते हैं। ऐसा करने पर आदर्श आचार संहिता उल्लंघन माना जाएगा और प्रत्याशी पर कार्रवाई की जाएगी।
डीएम ने चुनाव पदाधिकारियों को दिए कई टिप्स
जिला निर्वाचक पदाधिकारी सह डीएम उदिता सिंह व एसपी मनीष ने मंगलवार को समाहरणालय स्थित अक्षयवट राय स्टेडियम में सेक्टर दंडाधिकारी, पीसीसीपी, पीठासीन पदाधिकारी एवं मतदान कर्मियों को संयुक्त रूप से ब्रिफिंग किए। हाजीपुर के सभी 330 मतदान केंद्रों पर स्वच्छ, निष्पक्ष, पारदर्शी और भयमुक्त वातावरण में मतदान संपन्न कराने के लिए उपस्थित अधिकारियों को कई टिप्स दिए गए। उन्होंने कहा कि किसी के प्रभाव में नहीं आना है, निष्पक्ष होकर मतदान कराना है। कोई प्रचार सामग्री लेकर बूथ के अंदर नहीं जाना है।

वाट्सएप ग्रुप पर एक्टिव होकर हरेक गतिविधियों पर रखेंगे नजर
डीएम ने चुनाव कर्मियों के साथ ब्रिफिंग के दौरान कहा कि अगर बूथ लूटने की घटना होती है तो माना जाएगा कि आप सबों की मिलीभगत है। मतदान निर्धारित समय के अंत तक करना है। समय से पहले मतदान बंद नहीं करना हैं। शाम को भीड़ उमड़ने की स्थिति में अंधेरा हो जाने पर रोशनी की व्यवस्था के निर्देश दिए। कहा चुनाव को लेकर सभी बिंदुओं पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। पीसीसीपी टीम का व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है। जिससे टीम के हरेक गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी। मतदान के बाद प्रथम पीठासीन पदाधिकारी व पी वन, पी टू संयुक्त रूप से ईवीएम को वज्रगृह तक पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे।

बायोमीट्रिक से मतदाता की पहचान कर फर्जी होंगे गिरफ्तार
पंचायत चुनाव में पहली बार इवीएम का उपयोग किया गया है। वहीं फर्जी वोटों को रोकने के लिए बायोमैट्रिक्स डिवाइस भी मतदान केंद्र पर लगाया जाएगा। जिससे वोटरों का पहचान होगा। एक बार से ज्यादा वोटर मतदान नहीं कर पाएंगे। दूसरी बार मतदान करने जैसे ही जाएंगे। बायोमीट्रिक डिवाइस बता देगा कि ये वोटर पहले ही इस नाम से वोट डाल चुका है। अगर कोई वोटर ऐसा करते पकड़ा गया तो बूथ से ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस प्रयोग से पंचायतों में बूथों पर फर्जीवाड़ा की शिकायत नहीं आएगी। हालांकि वोट प्रतिशत कम होगा। क्योंकि फर्जी वोटिंग पर पूरी तरह से लगाम लग जाएगा।

बूथ पर विवाद होने की स्थिति में पोलिंग एजेंट को करें गिरफ्तार
डीएम ने कहा पंचायत चुनाव के प्रत्याशी अपना-अपना पोलिंग एजेंट बना सकते हैं। इसके लिए निर्वाचन के नियमों का पालन करना होगा, लेकिन हंगामा या झगड़ा करने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। क्योंकि बूथों पर गड़बड़ी रोकने के लिए ईवीएम के साथ बायोमैट्रिक्स भी लगाया गया है। इसलिए पोलिंग एजेंट हरसंभव सहयोग करेंगे।

अलग-अलग रंग से होगी छह पदों की पहचान|इस बार अलग-अलग रंगों से छह पदों की पहचान होगी। पहला बूथ जिला परिषद पद के लिए बनाए जाएंगे, जिसकी पहचान लाल रंग के संकेत चिह्ल दिया गया है। इसी प्रकार मुखिया पद के बूथ हरे रंग, पंचायत समिति सदस्य के नीले रंग और ग्राम पंचायत सदस्य के लिए काले रंग का संकेत चिह्न बनाए गए है।

यहां करें शिकायत जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना कलेक्ट्रेट में की गई है जिसका दूरभाष संख्या-06224-260916 है, इसके अतिरिक्त 06224-260917, 260918, 260919, 260920, 260921, 260922, 260923 है। वही डीएम- 9473191310, महनार एसडीओ- 9473191313, महुआ एसडीओ-9431800082

खबरें और भी हैं...