• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Water Resources Department Sought Information From Districts About Sensitive Sites, Damaged Embankments Will Be Repaired By May 15

बाढ़ से बचाव:जल संसाधन विभाग ने जिलों से मांगी संवेदनशील स्थलों की जानकारी, 15 मई तक दुरुस्त होंगे क्षतिग्रस्त तटबंध

पटना14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पिछले साल 298 योजनाओं का हुआ था चयन, खर्च हुए थे 1100 करोड़ - Dainik Bhaskar
पिछले साल 298 योजनाओं का हुआ था चयन, खर्च हुए थे 1100 करोड़

राज्य सरकार बाढ़ पूर्व की तैयारियों में जुट गई है। जल संसाधन विभाग ने इसके लिए विस्तृत कार्ययोजना बनायी है। मुख्यालय ने सभी जिलों ने बाढ़ पूर्व योजनाओं का ब्यौरा मांगा है। ऐसे अधिसंख्य स्थानों से बाढ़ पूर्व योजनाओं और तटबंध मरम्मत को लेकर कई योजनाओं की सूची मुख्यालय को भेजी भी गयी है। लेकिन, विभाग अंतिम रुप से अन्य तमाम योजनाओं को उसमें शामिल कर लेना चाहता है। इसी महीने उस योजनाओं पर काम भी शुरू कर लेना है। उन्हें 15 मई तक तमाम तटबंधों को दुरुस्त कर लिया जाएगा।

मुख्यालय ने सभी संबंधित इंजीनियरों से क्षतिग्रस्त तटबंधों के साथ-साथ अन्य संवेदनशील स्थलों की जानकारी देने को कहा है। इनमें क्षतिग्रस्त बाढ़ सुरक्षात्मक इन्फ्रास्ट्रक्चर भी शामिल है। इन सबकी सूचना उपलब्ध होने के बाद मुख्यालय स्तर पर उनकी समेकित रिपोर्ट बनेगी, जिसे बाढ़ नियंत्रण पर्षद की बैठक में रखा जाएगा। गत वर्ष कोरोना के कारण विभाग को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। सारी योजनाओं के कार्यान्वयन पर भी लगातार संकट बना रहा था।

लेकिन, बेहतर मानिटरिंग और मुख्यालय के निर्देशों से विभाग ने मानसून के पहले ही लगभग सारी योजनाएं पूरी कर ली थी। पिछले साल 298 योजनाओं का चयन किया गया था। इनपर 1100 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। हालांकि जल संसाधन विभाग ने बाढ़ और जल निकासी की 1251 करोड़ की योजनाओं को मंजूरी दी थी। इनमें राज्य योजना मद की योजनाएं भी शामिल थी। इनपर 360 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। इसके अलावा नेपाल में 19 योजनाओं पर बाढ़ पूर्व कटाव निरोधी कार्यों पर काम किया गया था।

मानसून से पहले राज्य के सभी तटबंध दुरुस्त होंगे : मंत्री

  • ‘राज्य सरकार मानसून के पहले सारे तटबंधों को दुरुस्त कर लेगी। हमने व्यापक कार्ययोजना बनाकर काम शुरू किया है। तटबंधों और संवेदनशील स्थानों की हर हाल में बाढ़ के पहले मरम्मत कर ली जाएगी।’ - संजय कुमार झा, जल संसाधन मंत्री
खबरें और भी हैं...