पूर्व सीएम मांझी ने इमामगंज की सभा में कहा:क्षेत्र के विकास के लिए सीएम से 1000 करोड़ मांगेंगे, नहीं देंगे तो कहीं हम चमक न जाएं

पटना/शेरघाटी/इमामगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने सरकार को एक बार फिर अल्टीमेटम दे दिया है। - Dainik Bhaskar
पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने सरकार को एक बार फिर अल्टीमेटम दे दिया है।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने नीतीश सरकार को एक बार फिर अल्टीमेटम दे दिया है। मांझी ने कहा है कि क्षेत्र के विकास के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री से 1 हजार करोड़ रुपया मांगा है। अगर वे 1 हजार करोड़ नहीं देंगे तो फिर से मांगेंगे। फिर जनता से संवाद में मुख्यमंत्री की तरफ इशारा करते हुए कहा-अगर नहीं दीजिएगा तो हम आपकी पार्टी में नहीं हैं। हम गठबंधन में हैं। कहीं हम चमक न जाएं इसके चलते, तो फिर आप समझिएगा।

मांझी ने लोगों से कहा कि आपके क्षेत्र के लिए, लोगों के लिए हम ऐसा कहना चाहते हैं। हालांकि मांझी ने यह भी कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ऐसी नौबत नहीं आएगी। मुख्यमंत्री हमारी बात को मान्यता देते हैं। मांझी के इस बयान के बाद बिहार की राजनीति फिर से गर्म है। दरअसल मांझी रह-रह कर सरकार को अल्टीमेटम देते रहे हैं और गठबंधन से बाहर जाने की भी चेतावनी नई नहीं है। मांझी ने इसे फिर दोहरा कर मामला सुलगा दिया है।

राजनीति की आखिरी पारी खेल रहा, यश लेकर जाना चाहता हूं
मांझी इमामगंज के पथरा गांव में ग्रामीण चिकित्सक स्व.परमेश्वर प्रसाद व उनकी पत्नी स्व.यशोदा देवी की प्रतिमा के अनावरण के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। इसी दौरान मांझी बोलते-बोलते फिसल गए। मांझी ने कहा कि वे राजनीति की अंतिम पारी खेल रहे हैं। अंतिम पारी में हम अपयश लेकर नहीं जाना चाहते। मांझी ने कहा कि उनके अपने पुत्र संतोष सुमन और इंजीनियर को कहा है कि 1 हजार करोड़ का इस्टीमेट बनाकर रखिए।

खबरें और भी हैं...