पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खुलासा:पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर कराई थी पावर ग्रिड कर्मी की हत्या, झुमके बेच दी सुपारी

पटना10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 8 जुलाई को हुई थी वारदात, पत्नी समेत सात गिरफ्तार

बाढ़ थाना क्षेत्र के शहरी पावर ग्रिड के कर्मचारी पंकज कुमार गुप्ता की हत्या उसकी पत्नी ने सुपारी देकर कराई थी। इसके लिए उसने अपने झुमके भी बेच दिए थे। पुलिस ने मृतक की पत्नी समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। सुपारी में दिए गए दो लाख रुपए भी बरामद कर लिए गए हैं। एएसपी अमरीश राहुल व बाढ़ थाना अध्यक्ष संजीत कुमार ने बताया कि 8 जुलाई की सुबह बाजार समिति गेट के पास दूध लाने जा रहे पंकज की गोली मारकर हत्या मामले में पुलिस ने घटना में प्रयुक्त अपाचे बाइक, एक पिस्टल, दो कारतूस भी बरामद किए गए हैं।  डॉक्टर के यहां मिली थी प्रेमी से : एएसपी ने बताया कि मृतक की पत्नी शोभा देवी अपने बच्चे को दिखाने एक चिकित्सक के पास बराबर जाया करती थी। इसी बीच गोलू उर्फ सन्नी नामक युवक से उसकी दोस्ती हुई जो प्यार में बदल गई। इसकी जानकारी पंकज को हुई तो उसने अपनी पत्नी के साथ मारपीट कर जान मारने की धमकी दे डाली। इसकी जानकारी शोभा ने अपने प्रेमी गोलू को दी तो दोनों ने पंकज की हत्या करने का प्लान बनाया। गोलू शूटर की व्यवस्था करने के लिए तैयार हो गया। वहीं शोभा देवी पैसे का इंतजाम करने के लिए तैयार हो गई। उसने झुमके बेचकर 45 हजार रुपए जुटाए। 

आयुष ने ली थी सुपारी
इसके बाद गोलू ने अपने एक दोस्त मनीष से संपर्क किया जिसके बाद मनीष ने अपने चचेरे भाई मोहित उर्फ आदित्य से परिचय कराया। मोहित ने अपने परिचित राजा से मदद मांगी तो राजा के द्वारा मोहित का संपर्क आयुष से करा दिया गया। आयुष पैसे के बदले हत्या करने के लिए राजी हो गया।  मोहित और आयुष द्वारा घटना के एक दिन पहले घटनास्थल का मुआयना भी किया गया। हत्या करने के लिए 45 हजार रुपए एडवांस में दिए गए और बाकी दो लाख 80 हजार रुपए घटना के बाद देने की बात हुई। शोभा देवी ने एडवांस का 45 हजार रुपया अपने भाई मुकेश द्वारा भिजवाया और बाकी पैसों के एवज में ब्लैंक चेक दिया।

घटना के दिन 3 बजे सुबह से कर रहे थे बात
घटना के दिन सुबह तीन बजे से ही शोभा देवी, गोलू उर्फ सन्नी, मनीष, मोहित, आयुष एवं आयुष के दो सहयोगी आपस में लगातार बात कर रहे थे। आयुष अपने दो सहयोगियों के साथ घटनास्थल पर मौजूद हो गया। एक सहयोगी लाइनर का काम कर रहा था जो पुलिस की गतिविधियों पर नजर रखे हुए था। दूसरा सहयोगी उजले रंग की अपाचे मोटरसाइकिल चला रहा था। आयुष पिस्टल लेकर पीछे बैठा हुआ था। जैसे ही पंकज अपने घर से दूध लाने के लिए बाहर निकला। इसकी जानकारी शोभा ने गोलू को दी। गोलू यह सूचना आयुष तक पहुंचाई जो कि घटनास्थल पर तैयार था। जैसे ही पंकज सड़क पर आया आयुष ने उसे पीछे से गोली मार दी और मोटरसाइकिल के साथ राणा बीघा की तरफ भाग गया। 

फोन पर लाइव सुनी वारदात
पंकज की पत्नी शोभा उस वक्त मोबाइल फोन के जरिए अपने प्रेमी सन्नी और हत्यारों के संपर्क में थी। बकौल पुलिस, आरोपित महिला लगातार फोन पर लगी थी। हत्यारों ने इधर पंकज को गोली मारी और उसकी पत्नी फोन पर लाइव गोली की आवाज सुन रही थी। पुलिस की मानें तो यह सब शातिराना ढंग से किया जा रहा था। इसके लिए उसने अलग मोबाइल नंबर ले रखा था। 

बरामद किए पैसे
घटना के अगले दिन शोभा देवी अपने भाई मुकेश को लेकर एएनएस कॉलेज स्थित एसबीआई पहुंची जहां अपने खाते से दो लाख अस्सी हजार रुपए निकाल गोलू को दिए, जिसे गोलू द्वारा मनीष के माध्यम से मोहित को दिए। इसके बाद मोहित ,आयुष और उसके दो सहयोगी के बीच में इस पैसे का बंटवारा किया गया। मामला खुला तो पुलिस ने मनीष के पास से 5,000, मोहित के पास से 50,000, राजा के पास से 20,000 आयुष के पास से 1,25,000 बरामद किए गए हैं।
महिला ने बांह पर प्रेमी का टैटू भी बनवा रखा था : थानाध्यक्ष ने बताया कि गोलू के नाम का टैटू महिला ने अपनी बांह में बनवा रखा था। पुलिस ने जब सभी अभियुक्तों से गहनता से पूछताछ की तो यह बात सामने आई। महिला पुलिसकर्मियों ने भी टैटू देख कर सत्यापित किया। 

हत्याकांड का पूरी तरह उद्भेदन कर आरोपितों को गिरफ्तार करने में बाढ़ पुलिस की अहम भूमिका रही है। थानाध्यक्ष संजीत कुमार की टीम को पुरस्कृत करने के लिए एसएसपी से अनुशंसा की जाएगी। अंबरीश राहुल, एएसपी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें