पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

त्रासदी:10 प्रखंडों की 408 सड़कें क्षतिग्रस्त हुईं, अब तक 144 सड़कों से पानी उतरा, मरम्मत शुरू

परसा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मढ़ौरा के बाढ़ प्रभावित इलाकों में 243 सड़कें टूटी हैं, जबकि 122 सड़कों से ही बाढ़ का पानी उतरा है
  • सोनपुर में 165 सड़कें क्षतिग्रस्त हुईं है। 22 रोड से पानी उतरा
  • दवा का छिड़काव नहीं होने से संक्रमण का बढ़ा खतरा

बाढ़ का पानी उतर गया,लेकिन उसकी निशानी परसा प्रखंड स्थित विभिन्न पंचायत के मोहल्लों में जलजमाव के रूप में अभी भी कायम है।बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के निचले इलाके वाले मोहल्लों में जमा पानी और उसमें जगह-जगह उपलाते गंदगी की ढेर से वहां रहने वालों का जीना मुहाल कर दिया है। करीब एक महीना से जमा पानी और उस पानी से निकल रही गंदगी से वहां रहने वालों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है। परसा प्रखंड के अन्याय पंचायत स्थित अन्याय पोखरा के निकट,गौरीगवा, बभनगवां, विशुनपुर, ब्रह्मपुर सहित कई इलाकों में करीब 15 दिन से भी अधिक समय से जगह-जगह जलजमाव है।बाढ़ प्रभावित निचले इलाके के लोग अपने घरों में जमा पानी निकालने की जुगत में दिन भर लगे हुए हैं। कहीं पंप से व मोटर लगाकर तो कहीं लोग बाल्टी से पानी निकालने की कवायद में जुटे हैं। मुख्य सड़कों पर भी जलनिकासी की व्यवस्था सही नहीं होने के कारण बारिश का पानी सड़क के दोनों और जमा हो जाता है। जिससे पैदल चलना भी कठिन हो जाता है।

न जल निकासी की व्यवस्था और न ही दवा का छिड़काव

परसा प्रखंड क्षेत्र के अन्याय पंचायत के गौरीगवा हरिजन टोली, बभनगवां, विशुनपुर, खिदिलपुरा, बभनगवां गाछी, अन्याय डीह, अन्याय गढ़, फरकपुर आदि इलाकों में बसे लोगों की यही स्थिति है। प्रभावित क्षेत्रों के राजेश कुमार,मोहन सिंह,अजय सिंह, लालबहादुर राय, शिवकुमार सिंह,रमेश सिंह, कृष्ण कुमार, सत्येंद्र सिंह, मैनेजर राय, लक्षण राम, सुकेश्वर राम, महेश राम, शरदा कुअंर, केवली देवी, लक्ष्मीना देवी,चंदा देवी ने कहा कि लगता है कि हमलोग अपने ही घर में कैदी बन गए है। पानी के सड़ने से निकल रही दुर्गंध से जीना मुश्किल हो रहा है। प्रखंड प्रशासन की ओर से जलजमाव से निजात के लिए कोई उपाय नहीं किया जा रहा है। इन लोगों ने कहा कि न जल निकासी का कोई उपाय हो रहा है और न कहीं दवा का छिड़काव हो रहा है। जल्द कोई उपाय नहीं हुआ तो लोग संक्रामक बीमारी की चपेट में भी जा सकते है।

परसा : सड़ रहे कूड़े-कचरे की ढेर से निकल रही बदबू

मोहल्लों में जमा पानी व कूड़े कचरे के ढेर से निकल रही बदबू से इन इलाकों में रहने वाले लोग घुट घुट कर जी रहे है। स्थिति यह है कि सड़ रहे कचरे की ढेर के कारण हर समय घर की खिड़की दरवाजे बंद रखना पड़ता है। खिड़की दरवाजे बंद रहने से कमरे में उमस से जीना मुहाल हो जाता है। इससे उबरने के लिए खिड़कियां खोलते है तो बदबूदार हवा का झोंका असहनीय कर देता है।

मकेर : बाढ़ से दर्जनों सड़कें क्षतिग्रस्त हो गईं

प्रखंड में बाढ़ का पानी कम होने के साथ लोग आशियाने को ठीक करने में जुट गये है। पानी उतरने के साथ बाढ़ की तबाही जगह-जगह साफ दिखाई दे रही है। एनएच-722 से जुड़े गांव की सड़क से पानी उत्तर गया है लेकिन सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई है। वहीं बाढ़ प्रभावित प्रखंड के कैतुका नंदन पंचायत में नाव सृजित प्राथमिक विद्यालय का किचन सहित विद्यालय का पूरा फर्श टूट गया है।

बाढ़ के पानी से खदरा नदी पर बना डायवर्सन ध्वस्त

तरैया| प्रखण्ड के भूतनाथ चौक खदरा नदी पर बने ब्रिटिश कालीन पुल को तोड़कर डायवर्सन बनाया गया था।जो निर्धारित मानक मापदंड के अनुरूप नही बनाया गया था।जैसे-तैसे आवागमन चल रहा था। वह भी 28 जुलाई को आये बाढ़ की पानी के प्रवाह में बह गया।जिससे 48 दिनों से आवागमन ठप है।तथा प्रखण्ड मुख्यालय का सम्पर्क तरैया बाजार से कट गया है।जिससे लोगों की परेशानी बढ़ गयी है।प्रखण्ड कार्यालय,अंचल कार्यालय,रेफरल अस्पताल,थाना आने-जाने का एक मुख्य मार्ग यही है। डायवर्सन ध्वस्त होने के कारण जहां तरैया पुलिस को तरैया मुख्य बाजार में पहुँचने में 05 मिनट लगते थे। अब 40 मिनट लग रहे है।

01 किलोमीटर की दूरी की जगह 08 किलोमीटर की दूरी तय करना पड़ रहा है।बाजार से पश्चिम वाले दर्जनों गांव के लोगों का संपर्क प्रखण्ड मुख्यालय से भंग है। तो वहीं बाजार के पूरब के दर्जनों गांवों के लोगों का सम्पर्क तरैया मुख्य बाजार से कट गया है। जिससे इन गांवों कर लोगों को छपरा या पटना जाने में काफी परेशानी हो रही है। तरैया पश्चिम, गंडार, पोखड़ेरा, लौवा, पिपरा, शाहनेवाजपुर, पचभिण्डा,नंदनपुर, डेवढ़ी, गवन्द्री,भटौरा,नेवारी आदि गांवों के लोगों को प्रखण्ड मुख्यालय जाने के लिए तरैया के 01 किलोमीटर की जगह 08 किलोमीटर अधिक घूमकर जाना पड़ रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें