हादसा:तीसरे तल्ले की रेलिंग गिरते ही मचा कोहराम

रफीगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इसी गली में पक्तिबद्ध होकर भोज खा रहे थे लोग। - Dainik Bhaskar
इसी गली में पक्तिबद्ध होकर भोज खा रहे थे लोग।
  • तीन लोगों की मौत के बाद धुनिया मुहल्ले में मातम

बुधवार की दोपहर श्राद्ध का भोज खा रहे छह लोगों पर अचानक तीन तल्ले छत का रेलिंग टूटकर गिर गया। जिसके जद में आने से तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि चार लोग जख्मी हो गए। जिस जगह पर श्राद्ध में लोगों को खाने के लिए व्यवस्था किया गया था। उस जमीन के दोनों तरफ तीन तल्ला मकान है।

मकान के उपर पांच इंच का रेलिंग दिया हुआ था। जिसके उपर बांस रखकर त्रिपाल का टेंट लोगों को खाने के लिए लगाया गया था। उसी टेंट के नीचे लोग बैठकर खाना खा रहे थे। कुछ लोग खड़े थे और कुछ खाना परोस रहे थे। इसी दौरान तेज आंधी व बारिश आ गई। जिसके कारण पांच इंच का रेलिंग भर-भराकर नीचे गिर गया।

जिसके जद में आने से तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि तीन लोग जख्मी हो गए। घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। लोगों के चिख-पुकार से इलाका गुंज उठा। आनन-फानन में सभी को इलाज के लिए रफीगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया।

जहां इलाज के दौरान ही राजकुमार यादव, विश्वनाथ प्रसाद व राहुल की मौत हो गई। जबकि अन्य का इलाज किया गया। घटना की सूचना पाकर रफीगंज थानाध्यक्ष दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद सदर अस्पताल भेज दिया। जहां से पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

चल रहा था भोज कार्यक्रम, थोड़ी ही देर में छाया मातम
शहर के धुनिया मुहल्ला निवासी रमेश प्रसाद किराना व्यवसायी थे। वे मुहल्ले में ही किराना दुकान चलाते थे। 11 दिन पहले उनकी मौत हो गई थी। बुधवार को श्राद्ध कार्यक्रम था। हंसी-खुशी श्राद्ध कार्यक्रम में भोज चल रहा था। लोग हंसी-खुशी एक दूसरे से मिल रहे थे, लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था।

हंसी-खुशी का माहौल अचानक गम में तब्दील हो गया। रेलिंग टूटकर गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि तीन जख्मी हो गए। अंचलाधिकारी अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि तेज वर्षा के कारण ही रेलिंग गिरा है। आगे की कार्रवाई वरीय अधिकारियों के मार्गदर्शन के बाद ही किया जा सकेगा।

खबरें और भी हैं...