पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेखौफ खनन माफिया:ढिबरा लदे ट्रक को वन विभाग के कर्मियों ने रोका, माफिया ने छुड़ाया

रजौलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रजौली में अवैध खनन माफिया चोरी के साथ-साथ सीनाजोरी भी करते हैं। खनन माफिया गुरुवार की रात ढिबरा लदे ट्रक को वन विभाग के कर्मियों से जबरन छुड़ा लिया ह। मामला रजौली थाना क्षेत्र में सवैयाटांड़ पंचायत स्थित सपही चेक नाका का है जहां गुरुवार की रात लगभग 9 बजे वन विभाग के कर्मियों ने ट्रक को रोका था लेकिन खनन माफियाओं ने जबरन ट्रक को छुड़ा लिया। सूत्रों के अनुसार चटकरी स्थित बंद पड़े शारदा अभ्रक माइंस से अभ्रक का अवैध उत्खनन कर शक्तिमान ट्रक से ले जाया जा रहा था। लेकिन सपही चेक नाका पर पदस्थापित वन कर्मियों द्वारा ट्रक को रोक दिया गया। जिसके बाद शारदा अभ्रक माइंस में अवैध उत्खनन करने वाले खनन माफिया झारखंड के कोडरमा के पवन यादव, झारखंड के ही डोमचांच थाने के बेलाटांड़ निवासी पप्पू यादव व सपही बाजार निवासी पप्पू साव ने काफी बवाल खड़ा किया। रात होने व वनकर्मियों की संख्या कम होने के कारण खनन माफियाओं के आगे वनकर्मियों की एक न चली और वे जबरन ढिबरा लदे शक्तिमान ट्रक को ले गए। हालांकि इस संदर्भ में जब जब रजौली पूर्वी के फॉरेस्टर वीरेंद्र पाठक से जानकारी ली गई तो उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर ले जाने को लेकर वनकर्मियों के साथ विवाद हुई है। घटना शाम लगभग साढ़े 7 बजे की है। सपही चेक नाका पर मौजूद वनकर्मियों ने उन्हें इसकी जानकारी दी है।खाली ट्रैक्टर को ले जाने को लेकर विवाद हुआ है। फॉरेस्टर बीरेन्द्र पाठक की बात से ऐसा प्रतीत होता है वे खनन माफियाओं को बचाना चाहते हैं अन्यथा ट्रक को रोकने पर वनकर्मियों के साथ हुए अभद्र व्यवहार को लेकर कार्रवाई हो सकती थी।

खबरें और भी हैं...