पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पशुपालकों का लाभ:संजीवनी योजना से मिलेगा पशुपालकों का लाभ

रजौली14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पशु का होगा 12 अंको का अपना आधार, 44 फिसदी टैगिंग

पशु संजीवनी योजना के तहत पशुपालकों को कई तरह का लाभ होगा। योजना का लाभ दिलाने के लिए प्रखंड में काम चल रहा है। प्रखंड में किसानों के पास कितने पशु हैं इसकी पहचान के लिए पशु चिकित्सालय की ओर से गांव स्तर पर सर्वे किया जा रहा है। प्रत्येक किसान के पशु को चिह्नित कर उसे टैग किया जा रहा है। पशु पालन विभाग की ओर से अब दुधारू गाय एवं भैंस को टैग लगाने का अभियान शुरू किया है। टैगिंग के आधार पर पशुओं को आधार कार्ड की तरह ही यूनिक टैग नंबर दिए जा रहे है।

चिकित्सक निरंजन कुमार ने कहा कि पशुओं को यूनिक नंबर मिलने से पशु का पूरा ब्यौरा कम्प्यूटर में एक क्लिक पर सामने आ जाएगा।आपदा प्रबंधन में किसी प्रकार की छति होने पर मवेशी पालकों उचित मुआवजा दिया जा सके।सरकार की स्पष्ट मंशा है कि भविष्य में अगलगी, बाढ़, बिजली के करंट से पशु की क्षति होती है तो किसान को इसका उचित मुआवजा दिया जा जाये। पशु चिकित्सालय रजौली के द्वारा पशुओं के टैग लगाने का कार्य शुरू कर दिया है। प्रखंडभर में संजीवनी पशु योजना के तहत इंफॉर्मेशन नेटवर्क फॉर एनिमल प्रोडक्शन एंड हेल्थ अभियान के तहत तीन माह में जनगणना के अनुसार 56 हजार पशुओं का पंजीयन कर पहचान पत्र युनिक नंबर के साथ जारी किया जाना है।

56000 पशुओं की इयर टैगिंग का लक्ष्य
लक्ष्य के अनुरूप 22 हजार 161 गाय, बाछी, बैल, बछड़ा तथा 2 हजार 678 भैंस व पाड़ा पाड़ा को टैग किया गया है।इन्हें 12 अंकों आधार कार्ड की तरह का यूनिक नंबर जारी किया जा चुका है। सरकार की ओर से प्रखंड में 56 हजार जारी लक्ष्य के अनुसार करना था। चिकित्सक ने बताया कि पूरे प्रखंड क्षेत्र में पांच पंचायत जंगल से सटा हुआ है।जहां के चार माह के पशू जंगलों में चले जाने के जिसके कारण मात्र 24834 पशुओं का टैगिंग कर यूनिक नंबर टाइप किया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें