पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपराध:रजौली में थाने से महज 50 मीटर दूर दहेज के लिए विवाहिता की हत्या

रजौली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
घटना थाना क्षेत्र के ऊपरटण्डा मोहल्ले की, पुलिस कर रही मामले की जांच। - Dainik Bhaskar
घटना थाना क्षेत्र के ऊपरटण्डा मोहल्ले की, पुलिस कर रही मामले की जांच।
  • मृतका के पिता ने कहा- बिजनेस बढ़ाने को 5 लाख मांग रहा था दामाद, नहीं दिया तो बेटी को मार डाला
  • शोरूम के संचालक पति व ससुराल के अन्य लोगों पर पुलिस ने दर्ज किया केस

रजौली में थाने से महज 50 मीटर दूर एक विवाहिता कि दहेज के लिए हत्या कर दिए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मृतिका के पिता ने बेटी के ससुराल वालों पर दहेज के लिए हत्या करने का आरोप लगाया है। घटना थाना क्षेत्र के ऊपरटण्डा मोहल्ला की है। यहां लक्ष्मण विश्वकर्मा के मंझले पुत्र और एक बाइक शो रूम के संचालक अरुण कुमार विश्वकर्मा की 22 वर्षीय पत्नी अंजली कुमारी की रविवार को संदेहास्पद मौत हो गई। मृत्यु की खबर पाकर मायके से मृतिका के माता-पिता अपने अपने परिजनों के साथ बेटी के ससुराल पहुंचे।

झारखंड के हजारीबाग जिला के मुफस्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत मकुनगंज निवासी मृतका के पिता अशोक विश्वकर्मा बताया कि मेरी छोटी पुत्री अंजली कुमारी का विवाह 29 नवंबर 2017 को हिंदू रीति रिवाज से लक्ष्मण विश्वकर्मा के पुत्र अरुण विश्वकर्मा के साथ हुई थी। विवाह के बाद साल भर ही रिश्ता अच्छा रहा। उसके बाद से बेटी के पति अरुण विश्वकर्मा, ससुर लक्ष्मण विश्वकर्मा,भैसूर अरविंद विश्वकर्मा, देवर छोटू विश्वकर्मा,सास एवं बड़ी गोतनी द्वारा दहेज को लेकर लगातार मारपीट एवं प्रताड़ित किया जाने लगा।जिसकी सूचना बेटी द्वारा फोन के माध्यम से अक्सर होती रहती थी।जिसके बाद कई बार समझौते कराने के लिए आये भी। आखिर उन लोगों ने मेरी बेटी को मार डाला।

चोट के निशान मिले
लड़की के पिता ने कहा कि मेरी बेटी के गर्दन के अगले तथा पिछले हिस्से की तरफ चोट के कारण दाग उपजी हुई है।दोनों हाथ के नाखून के पास काला निशान पड़ा हुआ है।जिससे हमें ऐसा लग रहा है कि ससुराल वालों ने दहेज के रूप मांगी गई रुपयों की मांग पूरा न करने के कारण हत्या कर दी गई है।मृतिका के ममानी रीता देवी ने कहा कि भांजी के ससुराल पक्ष से दवाब बनाया जा रहा था कि जल्दी आये नहीं तो दाह संस्कार कर दिया जाएगा।जबकी भांजी की मृत शरीर को देखने पर सर पर लगी चोट का निशान साफ दिखाई दे रहा था।ससुराल वालों ने पैसों की लालच में उसकी हत्या कर दी है।घटना के मृतका के माता-पिता एवं अन्य परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया था।

दामाद ने ससुराल से मांगा था 5 लाख रुपए, ताकि बिजनेस बढ़ा सके
मृतिका के पिता ने बताया कि तीन महीने पूर्व दामाद द्वारा हमसे 5 लाख की मांग की गई थी। उसने कहा था कि लगन का समय चल रहा है। शोरूम के सामान एवं गाड़ी के लिए पैसे की जरूरत है। हम ने मना किया तो दामाद ने गुस्से में फोन काट दिया। दूसरे दिन फोन करके फिर पैसा मांगा गया और कहा कि 5 लाख नहीं दे सकते तो बेटी की शादी की क्यों किये हैं। साथ ही उल्टा पुल्टा शब्द बोलकर फोन काट दिया। 30 मई को ससुराल वाले के द्वारा सुबह 11 बजे दिन को दूरभाष के माध्यम से हमें पता चला कि मेरी बेटी मर गई है।

बीमारी से मौत बता रहे हैं ससुराल वाले
मृतका के ससुर लक्ष्मण विश्वकर्मा एवं अन्य परिजनों ने बताया कि शनिवार की सुबह साढ़े दस बजे मेरी मंझली पतोहू अंजली कुमारी अपने कमरे में बेसुध पड़ी हुई थी।ततपश्चात स्थानीय डॉक्टर को बुलाकर इलाज करा रहा था।इलाज के क्रम में मृत्यु हो गई।मेरी पतोहू के मायके वाले द्वारा शव को दाह संस्कार से रोका गया।साथ ही बताया कि मुझपर एवं मेरे परिवारों पर बेबुनियाद आरोप लगाया जा रहा है।बताते चलें कि मृतिका अपने पीछे 2 वर्षीय बेटी को छोड़ कर गई है।घटना थाना परिसर से महज 50 मीटर की दूरी पर घटित हुई है।

मामला दर्ज कर लिया गया है, हो रही जांच: थानाध्यक्ष

^थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर दरबारी चौधरी ने बताया कि मृतिका के परिजनों द्वारा दिये गए सूचना के आलोक में त्वरित कार्यवाही करते हुए पुलिस बल के साथ पहुंचकर मृतिका का शव कब्जे में लिया गया।शव को पोस्टमार्टम हेतु नावदा सदर अस्पताल भेजा गया।मृतिका के पिता द्वारा लिखित आवेदन दी गई है।मामले की प्राथमिकी दर्ज कर आग की कार्रवाई की जायेगी। शव कब्जे में लेने के मौके पर विधि व्यवस्था थानाध्यक्ष सह एसआई कमलेश कुमार,एसआई फूलन सिंह,एएसआई निरंजन सिंह के साथ अन्य पुलिसबल मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...