लापरवाही:रजौली के 75 बेड के अनुमंडल अस्पताल में कुव्यवस्था, रात में वार्डों में घुस रहे जानवर

रजौली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल गेट के पास मवेशी। - Dainik Bhaskar
अस्पताल गेट के पास मवेशी।
  • रात की हालत देखकर ऐसा लगता है न तो कोई ड्रेसर और न ही वार्ड वाय

रजौली के 75 शय्या अनुमंडल अस्पताल में कुव्यवस्था बढ़ती जा रही है। हालत यह है कि अब रात में अस्पताल के वार्डों में जानवर वितरण करते हैं। अनुमंडल अस्पताल को बने बरसों बीत गया लेकिन सुविधा अब तक नहीं सुधरी। रात में हालत देखकर ऐसा लगता है कि न तो चिकित्सक है ,ना ही कोई ड्रेसर और वार्ड वाय है । सुरक्षा व्यवस्था के नाम पर तो कुछ भी नहीं है और रात में आवारा पशुओं तथा असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लग जाता है। अस्पताल के मुख्य गेट पर ऊपर टंकी से पानी गिरता रहता है । धमनी गांव के ग्रामीण ने बताया कि मंगलवार की रात्रि अचानक तबीयत खराब होने पर अनुमंडल अस्पताल आए लेकिन अस्पताल के मुख्य गेट पर दो दो सांढ बैल होने के कारण गेट के बाहर से रात्रि प्रहरी को आवाज देते देते थक हार गए ।जब कोई अस्पताल कर्मी बाहर सांढ बैल को हटाने नहीं आया तो थक हार कर प्राइवेट नर्सिंग होम में इलाज कराना पड़ा ।इस संबंध में अस्पताल के प्रभारी उपाधीक्षक डॉ राजीव कुमार ने बताया कि इस संबंध में जिला को जानकारी दिया जाएगा ।और समस्या का निदान कराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...