10 हजार रिश्वत लेते हुए लिपिक गिरफ्तार:रोहतास में निगरानी की टीम ने की कार्रवाई, सिविल सर्जन कार्यालय में था कार्यरत

रोहतास6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निगरानी की टीम के साथ आरोपी लिपिक। - Dainik Bhaskar
निगरानी की टीम के साथ आरोपी लिपिक।

रोहतास जिला मुख्यालय स्थित सिविल सर्जन कार्यालय के लिपिक को निगरानी की टीम ने मंगलवार की दोपहर गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी दस हजार के रिश्वत लेने के मामले में हुई है। टीम ने उसे गिरफ्तार कर पटना ले गई है। घूस लेते हुए टीम ने आरोपी लिपिक राज कृष्ण को दबोच लिया है।

सिविल सर्जन को भी नहीं थी जानकारी

राज कृष्ण उर्फ पिंटू कुमार लंबे समय से सिविल सर्जन कार्यालय में पदस्थापित हैं। कार्रवाई इतनी तेजी से हुई कि किसी को भनक तक नहीं लगी। निगरानी के अधिकारियों ने सिविल सर्जन को फोन कर कार्रवाई की जानकारी दी। प्रभारी सिविल सर्जन के एन त्रिपाठी ने बताया कि उन्हें निगरानी ने फोन पर सूचना दी कि कार्यालय के लिपिक पिंटू की गिरफ्तारी 10 हजार रिश्वत लेने के आरोप में की गई है।

20 हजार की रिश्वत मांगी थी

आरोपी ने एक डायगोनस्टिक केंद्र के मालिक से किसी मामले में पिंटू ने 20 हजार रिश्वत मांगी थी। उसी में 10 हजार रिश्वत लेते हुए गिरफ्तारी हुई है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पिंटू अपने कार्यालय में काम कर रहा था, तभी उसके मोबाइल पर किसी का फोन आया। वह मोबाइल पर बात करते हुए कार्यालय से बाहर गेट के पास पहुंचा ही था कि उसे निगरानी के अधिकारियों ने गिरफ्त में ले लिया। इस मामले में नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

खबरें और भी हैं...