• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Rohtas
  • Inspired By The Tokyo Olympics, A Swimming Competition Was Held In The Village Of Nonhar, Among 90 Contestants, Golu Of Bikramganj Won

रोहतास में आयोजित हुई जिला स्तरीय तैराकी प्रतियोगिता:टोक्यो ओलिंपिक से प्रेरित होकर नोनहर गांव में आयोजित हुई तैराकी प्रतियोगिता, 90 प्रतियोगियों में बिक्रमगंज के गोलू ने मारी बाजी

रोहतास2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिक्रमगंज के गोलु कुरैशी ने बाजी मारी। - Dainik Bhaskar
बिक्रमगंज के गोलु कुरैशी ने बाजी मारी।

टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के बेहतर प्रदर्शन से रोहतास के सुदूर गांवों में खेल-कूद को लेकर सकारात्मक संदेश गया है। लोग यह मानने लगे हैं कि जब देश के अन्य राज्यों से ग्रामीण प्रतिभाएं सामने आ रही हैं तो बिहार क्यों पीछे रहे। इसके लिए जरूरी है कि यहां उपलबध संसााधनों में खल-कूद प्रतियोगतिाओं का आयोजन हो जिसमें ग्रामीण प्रतिभाएं सामने आ सके।

इस क्रम में पहल करते हुए नेहरू युवा केंद्र एवं अन्य सहयोगी युवा संगठनों के तत्वाधान में बिक्रमगंज के नोनहर गांव में तैराकी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जहां नोनहर गांव के विशाल छठिया तालाब में इसका आयोजन किया गया। बड़ी बात यह रही कि जिले भर से 90 तैराक प्रतियोगिता में भाग लेने पहुंचे। इन्हें आठ ग्रुप में बांट कर प्रारंभिक मुकाबले कराएं गए। इसके बाद आठों मुकाबलों के प्रथम विजेताओं को फाइनल मुकाबले के लिए चुना गया।

फाइनल मुकाबला 100 मीटर का हुआ, जिसमें बिक्रमगंज के गोलु कुरैशी ने बाजी मारी। जबकि अमियावर गांव के राजू कुमार दूसरे और प्रमोद कुमार तीसरे स्थान पर रहे। तीनों विजेताओं को चमचमाती ट्राफी एवं नकद पुरस्कार भी दिए गए। तैराकी प्रतियोगतिा को देखने के लिए आस-पास के गांवों के ग्रामीण एवं जन प्रतिनिधि भी पहुंचे थे। सभी ने खिलाड़ियों को खूब उत्साहवर्धन किया। इस संबंध में जिला खेल पदाधिकारी संजय कुमार ने कहा कि नोनहर गांव के ग्रामीणों द्वारा अच्छी पहल की गई है। इस तरह के खेल आयोजन से ग्रामीण प्रतिभाएं सामने आती हैं। विजेता तैराकों को और बेहतर अवसर उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...