जाली नंबर ट्रक ने ढोई शराब, असली मालिक को नोटिस:असली नंबर की ट्रक रोहतास में चल रही, बांका पुलिस ने भेजी नीलामी की नोटिस

सासाराम12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रक के साथ उसके मालिक मदन मोहन तिवारी। - Dainik Bhaskar
ट्रक के साथ उसके मालिक मदन मोहन तिवारी।

अगर आप गाड़ी ऑनर हैं तो आपको सचेत करने वाली खबर है. क्योंकि प्रशासन बिना जांच पड़ताल के आपके वाहन को जब्त दिखाते हुए नीलामी का नोटिस थमा देगी। ऐसा ही कुछ बांका जिला के प्रशासन-पुलिस ने कर दिखाया है, मामला रोहतास जिला से जुड़ा हुआ है।

बांका में जब्त की गई शराब की गाड़ी के जाली नंबर के आधार पर बिना जांच-पड़ताल रोहतास के वाहन मालिक को नोटिस भेज दिया। जबकि वह गाड़ी अभी भी बिहार राज्य खाद्य निगम में लगी हुई है और कभी बांका नहीं भेजी गई।

नोटिस के अनुसार बीते 22 अक्टूबर 2021 को बांका जिला की सुईया थाना पुलिस ने ट्रक संख्या UP65AR- 4292 को शराब के साथ जब्त कर थाना कांड संख्या-81 दर्ज किया। यह ट्रक रोहतास जिला के सासाराम निवासी मदन मोहन तिवारी के नाम से रजिस्टर्ड है।

बांका में जारी किया गया नोटिस।
बांका में जारी किया गया नोटिस।

बड़ी बात है कि पुलिस ने जिस ट्रक को जब्त किया है, उसके चेचिस-इंजन नंबर की भी जांच करना मुनासिब नहीं समझा और मोबाइल एप से मालिक का नाम देखकर मद्य निषेध के तहत नीलाम होने वाले वाहनों की सूची में डाल दिया। अब बांका के अनुमंडल अधिकारी द्वारा वाहन मालिक को नीलामी की जानकारी देते हुए 10 जनवरी को हाजिर होने को कहा गया है।

मामले में ट्रक मालिक मदन मोहन तिवारी कहते हैं कि जिस ट्रक को बांका पुलिस जब्त दिखा रही, वो अभी सासाराम में है। साफ है कि कोई जाली नंबर लगा शराब की तस्करी कर रहा था। पुलिस ने जांच में असली ट्रक मालिक को ही नोटिस थमा दिया।

सासाराम में खड़ी ट्रक।
सासाराम में खड़ी ट्रक।

बिहार राज्य खाद्य निगम में चल रहा है ट्रक
मदन मोहन बताते हैं कि बांका पुलिस जिस ट्रक को जब्त बता रही है, वह बिहार राज्य खाद्य निगम में आज भी अनाज ढोने का कार्य करता है। जिस तिथि को उक्त नंबर का ट्रक जब्त करने की एफआईआर दर्ज की है, उस तिथि को भी उक्त नंबर का ट्रक रोहतास जिला में बिहार राज्य खाद्य निगम का अनाज ढोने का कार्य किया है। बिहार राज्य खाद्य निगम में रजिस्टर्ड वाहनों में जीपीएस सहित हाई सिक्योरिटी की व्यवस्था है, जिसमें उसका प्रतिदिन का सारा मूवमेंट दर्ज होता है।