पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उपभोक्ता परेशान:साहेबपुरकमाल के 5 पंचायत को 10 घंटे भी नहीं मिल रही बिजली

साहेबपुरकमाल22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

साहेबपुर कमाल प्रखंड के बिजली उपभोक्ता बिजली की किल्लत व विभाग की लचर व्यवस्था से परेशान हैं। बताते चलें कि विद्युत आपूर्ति की बदहाल स्थिति में सुधार लाने और यहां के उपभोक्ताओं को पर्याप्त बिजली उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सरकार द्वारा साहेबपुर कमाल के चौकी गांव के समीप एक पावर सब स्टेशन का निर्माण कराया गया।

जिससे इस प्रखंड के कुल 17 पंचायतों में से मात्र 9 पंचायत को खगड़िया से बिजली की आपूर्ति की जा रही है। शेष 5 पंचायत समस्तीपुर, पंचवीर, सनहा पूरब, सनहा पश्चिम एवं सनहा उत्तर को पूर्व से ही बलिया पीएसएस से विद्युत आपूर्ति की जा रही है। इन पांच पंचायताें के हजारों विद्युत उपभोक्ता निर्बाध रूप से बिजली का उपयोग करने के लिए आज भी लालायित हैं।

उमस भरी गर्मी से लाेग परेशान, अधिकारी से लेकर बिजली मिस्त्री तक भी नहीं सुनते
सनहा उत्तर पंचायत के अहमदगंज गांव निवासी शाहिद इकबाल अतहर, बिजेंद्र यादव, सनहा पश्चिम निवासी विनोद मिश्र, निरंजन पंडित, सनहा पूरब निवासी शंभु सिंह, उत्तम सिंह, पंचवीर निवासी अनस भारती, ललन कुमार सिंह, समस्तीपुर निवासी चिरंजीवी कुमार सिंह, अनुज ठाकुर आदि ने बताया कि ठीक से 10 घंटे भी बिजली नसीब नहीं हो पाती है।

इस कारण यहां के उपभोक्ताओं को उमस भरी गर्मी से निजात पाने के लिए हाथ पंखा के अलावे रात में छत पर तो दिन में पेड़ के छांव में दिन गुजारना पड़ रहा है। उपभोक्ताओं का कहना है कि इसको लेकर दर्जनों बार विद्युत विभाग के अधिकारियों को आवेदन भी दिया गया। परंतु अबतक कोई ठोस समाधान संभव नहीं हो पाया है।

इनलोगों का कहना है कि यहां के उपभोक्ता बिजली किल्लत के साथ-साथ विभाग के मिस्त्री के मनमाने रवैये से भी खासा परेशान रहते हैं। छोटे से फाॅल्ट होने पर एक तो बिजली मिस्त्री उसे ठीक करने के लिए भी नहीं पहुंचते हैं। अगर आग्रह विनती पर पहुंच भी गए तो ठीक करने के नाम पर उनके द्वारा उपभोक्ताओं से मनमाना राशि की मांग की जाती है। डीएम अरविंद कुमार वर्मा से इन समस्याओं से निजात दिलाने की गुहार लगाया है।

जेई ने कहा-जर्जर तार के कारण हाे रही परेशानी
साहेबपुर कमाल के कनीय विद्युत अभियंता राजीव रंजन ने बताया कि इस फीडर से बलिया से समस्तीपुर तथा बलिया से मीरअलीपुर व साहेब दियारा तक बिजली की आपूर्ति की जा रही है। फीडर लंबा होने व इसके मार्ग पर अत्यधिक संख्या में पेड़ रहने के कारण बराबर लाईन ट्रीप कर जाती है। बलिया पावर हाउस से लखमिनियां तक 3 किलोमीटर की तार पूरी तरह जर्जर है।

इसके लिए विभाग को लिखा जा चुका है। नए पीएसएस निर्माण के संबंध में जेई ने बताया कि पूर्व में समस्तीपुर में इसके लिए जमीन की तलाश की गई थी। परंतु वहां जमीन की उपलब्धता नहीं हो पाई। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा फिर से जमीन उपलब्ध कराने की मांग की गई। जिसके लिए जमीन को चिन्हित कर विभाग को भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...