बढ़ी रिकवरी रेट:जिले में 88 नए पॉजिटिव मिले, 29 मरीज हुए स्वस्थ

सासाराम4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जांच सैंपल लेते स्वास्थ्यकर्मी। - Dainik Bhaskar
जांच सैंपल लेते स्वास्थ्यकर्मी।
  • छह दिन बाद नए संक्रमितों की संख्या स्वस्थ्य होने वालों से अधिक

कोरोना के नए मामले छह दिन पूर्व तक कम सामने आए। जिसे देख ऐसा लगने लगा था कि तीसरी लहर अब शांत पड़ने लगी है, लेकिन शनिवार के आंकड़े को देख ऐसा लगने लगा है कि यह फिर से फन उठाना शुरु कर दिया है। पिछले 24 घंटे में रोहतास जिले में 88 नए मामले सामने आये। ये मामले 5372 सैंपलों की जांच के बाद मिले हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि रोहतास जिले में फिलहाल एक्टिव केस ढ़लान की ओर है। लेकिन पिछले आठ दिनों के बाद शनिवार को एक्टिव केस में उछाल देखी गई। संक्रिय मरीजों की संख्या 201 से बढ़कर 261 हो गई है। विभाग के जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी रितु राज ने बताया कि शनिवार को पूर्व के संक्रमित 29 मरीजों ने कोरोना को हराने में सफलता पाई है।

सिविल सर्जन डॉ अखिलेश कुमार ने बताया कि तीसरी लहर को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाई जा रही है। संक्रमण के रफ्तार में उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है। इस लिए जिलेवासी सावधानी और सर्तकता के साथ जीवन यापन करें। बहुत जरूरी हो तभी घर से बहार निकलने का प्रयास करें। कहा कि सबसे दुखद बात यह है कि आम लोग अभी भी कोरोना गाइड लाइन का सही-सही पालन नहीं कर रहे हैं। बाजारों में भीड़ पूर्व की तरह ही लगी रहती है। वहीं अधिकतर लोगों के चेहरे पर मास्क नहीं दिखाई पड़ता। ऐसे में गाइड लाइन की अनदेखी कोरोना को आगे बढ़ने में सहायक बन रही है। इधर, प्रशासनिक स्तर पर बिना मास्क वालों से जुर्माने वसूलने की कार्रवाई लगातार जारी है।

115758 15 से 17 आयु के किशोरों को लगी वैक्सीन

कोविड रोधी वैक्सीन की डोज देने का कार्य लगातार जारी है। इस समय 15 से 17 आयु वर्ग के किशोर-किशोरियों के साथ बुजुर्गों को भी वैक्सीन की डोज दी जा रही है। वैक्सीन लेने के लिए किशोर-किशोरियों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। रोहतास में 115758 किशोर-किशोरियों ने शनिवार तक वैक्सीन की पहली डोज ले ली थी। इसके लिए उच्च विद्यालयों से लेकर इंटर कालेज तक में स्वास्थ्य विभाग की टीम कैंप कर टीके लगा रही है। इसके अलावा डोर टू डोर जाकर टीके लगाने के लिए पंचायतों में टीम घूम रही है।

दूसरी लहर से अधिक लोग तीसरी लहर में हो रहे हैं संक्रमित

कोरोना को हराने के लिए गाइडलाइन का पालन करना जरूरी है। सावधानी व सर्तकता से ही खुद व परिवार को संक्रमण से बचा सकते हैं। जिले में लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है। सीएस ने कहा कि कोरोना से बचाव को लेकर नियम का पालन हरहाल में करना जरूरी है। स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों का कहना है कि दूसरी लहर से अधिक लोग तीसरी लहर में कोरोना संक्रमित हो रहे हैं, लेकिन तीसरी लहर में संक्रमित होने के बाद भी लोग खतरे से दूर है। कोरोना संक्रमित मरीज इलाज के बाद चार से पांच दिन में ठीक हो जा रहें हैं।

वैक्सीनेशन को ले हर दिन समीक्षा

स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैक्सीनेशन कार्य की समीक्षा प्रतिदिन की जा रही है। मैट्रिक और इंटर की परीक्षा को लेकर इस पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। 15 से 17 आयु वर्ग के किशोर-किशोरियों के टीकाकरण का निर्धारित लक्ष्य प्राप्त करने के लिए प्रतिदिन सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी रोजी रानी द्वारा समीक्षा बैठक की जाती है। इस बैठक में सदर पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ संतोष कुमार, अस्पताल प्रबंधक, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी समेत कई शामिल होते हैं। टीकाकरण की प्रगति को लेकर रणनीति बनती है और प्रतिदिन के कार्यों की समीक्षा भी की जाती है। 30 जनवरी तक विद्यालयों में हर हाल में 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों को कोविडरोधी टीका लगा देने का लक्ष्य निर्धारित है।

खबरें और भी हैं...