पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चमत्कारिक लाभ:आर्युवेद, एक्युप्रेशर व प्राकृतिक चिकित्सा से सभी प्रकार के रोगों में हो सकता है चमत्कारिक लाभ

इंद्रपुरी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पतंजलि योग समिति जिला रोहतास के तत्वावधान में बुधवार को डिहरी प्रखंड अंतर्गत आदर्श ग्राम- चिलबिला में पांच दिवसीय योग, आर्युवेद, एक्युप्रेशर एवं प्राकृतिक चिकित्सा शिविर का निःशुल्क आयोजन किया गया। मौके पर पतंजलि योग समिति जिला सह प्रभारी सह लोजपा नेता विनय कुमार सिंह ने बताया कि आर्युवेद, एक्युप्रेशर व प्राकृतिक चिकित्सा से साध्य- असाध्य रोगों में चमत्कारिक लाभ होता हैं।

लंबे अरसे से यहां के लोगों की मांग पर चिलबिला में जिला पतंजलि प्रभारी उमाशंकर प्रसाद के नेतृत्व में योग, वृक्षारोपण एवं चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। उन्होंने बताया कि शक्ति व सामर्थ्य के अनुसार खाली पेट प्राणायाम नियमित रूप से करें। संधिवात में सूक्ष्म व्यायाम, कमर के दर्द में मेरुदंड के आसन करने से लाभ होता है।

औषधीय पौधा पत्थरचट्टा एवं गिलोय रोपा गया

आयुर्वेद में मुख्यत: तीनों दोषों (वात, पित्त, कफ) का पूरा प्रकुपित होना या विषम होना रोगोत्पति का कारण माना गया है। तीनों दोषों का सबंध विविध शरीरगत तंत्रं व संस्थानों से है। इसलिए सही ढंग से नियमानुसार आसन, प्राणायाम, ध्यान और व्यायाम करने से तीनों को सम अवस्था में ठीक रखा जा सकता है।

औषधीय पौधा पत्थरचट्टा एवं गिलोय को भी लगाया गया। योग करें और निरोग रहे। शिविर के दौरान जिला प्रभारी उमा शंकर प्रसाद , मुख्य आयोजक विनय कुमार सिंह ,पतंजलि सह जिला प्रभारी, अनुमंडल प्रभारी रणविजय सिंह, मुख्य योग शिक्षक दीपक कुमार मिश्रा ने सभी भाइयों को योग आसन एवं प्रणाम कराये। एक्यूप्रेशर के विषय में अजय चंद्रवंशी ने बहुत से लोगों को एक्यूप्रेशर कराया और उसके विषय में बताया। मौजूद लोगों ने पतंजलि के अस्थायी आश्रम में के प्रांगण में वृक्षारोपण भी किया।

खबरें और भी हैं...