पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तियरा में दूसरी बटालियन:सीआरपीएफ के बादलगढ़ और बंजारी कैंप हटे, तियरा में दूसरी बटालियन

सासाराम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक कैंप की बटालियन की तैनाती औरंगाबाद के देव इलाके में होगी
नक्सलवाद के गढ़ रहे कैमूरांचल के रोहतास जिला इलाके से सीआरपीएफ की तीन में से दो कंपनियों को सरकार ने वापस कर लिया है। अब यहां सीआरपीएफ की कंपनी की तैनाती नहीं रहेगी। बादलगढ़ कैंप और बंजारी कैंप बंद किए गए सीआरपीएफ कैंप हैं। जबकि तियरा कैंप में तैनात कंपनी को बदलकर वहां सीआरपीएफ की दूसरी टुकड़ी तैनात करने का निर्णय लिया गया है। रोहतास के नक्सल प्रभावित इलाके कैमूर पहाड़ी के किनारे बादलगढ़, बंजारी और तियरा में तीन कंपनियां तैनात थी।

गौरतलब है कि यह तैनाती इलाके में भाकपा माओ संगठन के बढ़ती सक्रियता को देखकर सरकार द्वारा की गई थी। हटाए गए दो कंपनियों में से एक को औरंगाबाद के देव इलाके में तैनात किए जाने की सूचना है। जबकि इस सप्ताह के अंत तक तियरा कैंप के लिए नई कंपनी चली आएगी। सुदूर पहाड़ी इलाके तियरा में बरकरार रहेगा कैंप: बंजारी और बादलगढ़ सीआरपीएफ कैंप को पूर्णत: बंद करने के बाद सरकार ने तियरा कैंप को बरकरार रखने का निर्णय लिया। क्योंकि वह इलाका झारखंड, उत्तरप्रदेश व बिहार का सीमावर्ती क्षेत्र है। जहां नक्सली गतिविधियों का केंद्र रहा है। सीमावर्ती राज्यों से संचालित गतिविधियों को नजर रखने के लिए ऐसा किया गया है।

रोहतास में 18 वर्षाें बाद तीन सीआरपीएफ कैंपों में से दो से बटालियन को बुलाया गया वापस, तियरा वाले कैंप को बरकरार रखने का निर्णय

रोहतास एसपी सत्यवीर सिंह ने बताया कि सरकार के तरफ से नक्सल प्रभावित इस इलाके में तीनों कंपनियों को तैनात किया गया था। अब यहां नक्सली गतिविधियों में भारी गिरावट आई है। इसलिए दो कंपनियों को वापस बुलाया गया है।

रोहतास में 18 वर्षों से तैनात थी यह कंपनियां
डीएफओ संजय सिंह की हत्या के बाद गृह विभाग ने कैमूर पहाड़ी के इन इलाकों में तीन सीआरपीएफ कंपनियों को तैनात करने का निर्णय लिया था। बादलगढ़ के कैंप को सबसे अंत में स्थापित किया गया था। वहां 2003 में नक्सली संगठन के साथ मुठभेड़ में बीएमपी का एक जवान मारा गया था।

किला पर रेंजर की हत्या के बाद प्रस्ताव गया था
बंजारी कैंप सबसे पहले स्थापित हुआ। 2001 में रोहतास गढ़ किला पर रेंजर बीरबहादुर राम की हत्या होने के बाद ही प्रस्ताव गया था। रोहतास जिला के सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित चुटिया, नौहट्‌टा, रोहतास डेहरी अनुमंडल क्षेत्र के इलाके थे। सरकार ने डेहरी अनुमंडल के बंजारी और तियरा में कैंप स्थापित किया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उत्तम व्यतीत होगा। खुद को समर्थ और ऊर्जावान महसूस करेंगे। अपने पारिवारिक दायित्वों का बखूबी निर्वहन करने में सक्षम रहेंगे। आप कुछ ऐसे कार्य भी करेंगे जिससे आपकी रचनात्मकता सामने आएगी। घर ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser