पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Sasaram
  • Breastfeeding Will Reduce Neonatal Mortality, Programs Will Be Organized For Awareness During World Breastfeeding Week By 7 August

बताए जाएंगे लाभ:स्तनपान में घटाई जाएगी नवजात मृत्यु दर, 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह के दौरान जागरुकता के लिए होंगे कार्यक्रम

सासारामएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बोतलबंद दूध पर प्रतिबंध: सदर अस्पताल एवं प्रथम रेफरल इकाई होगा बोतल दूध मुक्त परिसर
Advertisement
Advertisement

स्तनपान नवजातों एवं बच्चों में प्रारंभिक रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास कर उन्हें अन्य गंभीर रोगों से सुरक्षित करता है। इसलिए प्रत्येक साल स्तनपान के महत्व को जन-जन तक पहुंचाने के लिए 1 अगस्त से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया जाता है। स्तनपान सप्ताह के दौरान आशा आंगनवाड़ी सेविका एवं एएनएम घर-घर जाकर माताओं को स्तनपान करने के लिए जागरूक करेंगी।

साथ ही इसके लाभ के बारे में जानकारी देंगे सामुदायिक कार्यकर्ता धात्री माताओं को भी स्तनपान के लाभ के बारे में बताएंगे। स्वस्थ पृथ्वी के लिए करें स्तनपान का समर्थन को इस वर्ष की थीम के रूप में चुना गया है। स्तनपान नवजात एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाता है। साथ ही स्तनपान डायरिया, निमोनिया एवं कुपोषण से बच्चों को सुरक्षित रखने में कारगर साबित होता है।
इसको लेकर विभाग के राज्य कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने इस बार के विश्व स्तनपान सप्ताह के दौरान जिला सदर अस्पताल सहित सभी प्रथम रेफरल इकाई को बोतल दूध मुक्त घोषित करने का निर्देश दिया है। मिल्क सब्सटीट्यूट एक्ट 1992 का वर्ष 2003 में संशोधन हुआ। इसके अनुसार किसी भी प्रकार के दूध उत्पाद एवं बोतल बंद दूध के प्रचार-प्रसार पर प्रतिबंध लगाया गया ताकि स्तनपान की जगह बोतल दूध के इस्तेमाल में कमी लाई जा सके। इसके लिए लोगों को जागरूक किया जाएगा।
स्तनपान कक्ष का होगा निर्माण
जिले के प्रत्येक स्वास्थ्य संस्थानों में स्तनपान कक्ष( ब्रेस्ट्फीडिंग कोर्नर) निर्मित किए जाएंगे। यह स्तनपान कक्ष मुख्यतः ओपीडी में स्थापित किए जाएंगे। यह कक्ष कंगारू मदर केयर वार्ड के अतिरिक्त होगा। इस कार्य के लिए यूनिसेफ़ द्वारा तकनीकी सहयोग भी दिया जाएगा।

ग्रामीण एवं सामुदायिक स्तर पर भी प्रयास किए जाएंगे
ग्रामीण एवं सामुदायिक स्तर पर भी प्रयास किए जाएंगे। आशा, एएनएम एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा विश्व स्तनपान सप्ताह के दौरान अधिक से अधिक माताओं को शिशु के जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान प्रारंभ करने एवं छह माह तक केवल स्तनपान कराये जाने के महत्व में गर्भवती एवं धात्री माताओं को जागरूक करेंगी। आंगनवाड़ी सेविका एवं आशा पोषण दिवस एवं मदर मीटिंग में माताओं को आमंत्रित करेंगी।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज रिश्तेदारों या पड़ोसियों के साथ किसी गंभीर विषय पर चर्चा होगी। आपके द्वारा रखा गया मजबूत पक्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि करेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा भी आज मिलने की संभावना है। इसलिए उसे वसूल...

और पढ़ें

Advertisement