पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मनमानी:एपिडेमिक डिजीज व आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत तीन स्कूल संचालकों पर केस

सासाराम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आदेश नौवीं से छात्रों को बुलाने का था, ये एलकेजी-यूकेजी के बच्चों को पढ़ाने लगे

कोरोना महामारी के कारणों को देखते हुए पिछले वर्ष मार्च में विद्यालयों को पठन-पाठन कार्य के लिए बंद कर दिए गए थे। अभी सोमवार से कक्षा 9 से 12 वीं तक के क्लास शुरू करने के निर्देश मिले ही हैं की शहर और प्रखंड क्षेत्र के कई निजी विद्यालय अपनी मनमानी पर उतर आए। सरकारी आदेश का उल्लंघन करने की आदतों के बीच उन्होंने निर्देशों का उल्लंघन करते हुए छोटे-छोटे बच्चों की विद्यालयों में पढ़ाई शुरू कर दी। जानकारी मिलने के बाद अनुमंडल पदाधिकारी सुनील कुमार सिंह ने गुरुवार को निजी विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया।

इस दौरान अधिकारी ने पाया कि एलकेजी, यूकेजी से लेकर आठवीं तक के भी बच्चे विद्यालय में उपस्थित थे और उनके क्लास चलाए जा रहे थे। कोविड-19 से बचाव के जो निर्देश दिए गए हैं उसका घोर उल्लंघन किया जा रहा था। अनुमंडल पदाधिकारी गुरुवार को डेहरी प्रखंड क्षेत्र के निजी विद्यालयों के औचक निरीक्षण के दौरान कटार स्थित डीपीएस पब्लिक स्कूल पहुंचे। जहां उन्होंने विद्यालय में एलकेजी, यूकेजी के बच्चों का क्लास संचालित करते पाया। उन्होंने जब प्राचार्य से जवाब तलब किया तो बताया गया कि होमवर्क जांच के लिए बच्चों को बुलाया गया है। बहानेबाजी देखते अनुमंडल पदाधिकारी ने विद्यालय के इस कृत्य को नियम के विरुद्ध बताया।

प्राचार्य बोले- हॉस्टल में रहने वाले हैं, बच्चों ने कहा- इसी गांव के हैं
एसडीएम बस्तीपुर स्थित आवासीय आरएसके पब्लिक स्कूल पहुंचे वहां भी यही हाल था। छोटे-छोटे बच्चे क्लास में पढ़ रहे थे। प्राचार्य ने जवाब दिया कि हॉस्टल के बच्चे हैं। जबकि बच्चों से पूछताछ के क्रम में मालूम हुआ कि सभी बच्चे स्थानीय हैं और उन्हें पढ़ाया जा रहा था। अधिकारी ने इसी दौरान ज्ञान गंगा पब्लिक स्कूल बीएमपी-2 बस्तीपुर का निरीक्षण किया। इस विद्यालय में भी प्राथमिक कक्षा से 8 तक की सभी कक्षाएं चल रही थीं। विद्यालय द्वारा सरकारी प्रतिबंध के बावजूद कक्षा संचालित किया जा रहा था।

इंद्रपुरी थाना में प्रखंड शिक्षा पदधिकारी ने केस दर्ज कराया, अन्य स्कूलों की भी जांच
प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी सुरेश प्रसाद ने बताया कि तीनों विद्यालयों के प्रबंधक संचालक एवं प्राचार्य के खिलाफ इंद्रपुरी थाना में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है। उन्होंने बताया कि दूसरे विद्यालयों की भी जांच की गई है और यह निरंतर जारी रहेगी। जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध सख्त कदम उठाए जायेंगे। बताया कि जिन कक्षाओं को चलाने के निर्देश हैं उसमें बगैर मास्क के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने को कहा गया है।अधिक भीड़ नहीं हो इसलिए सम विषम तरीके अपनाते पचास प्रतिशत उपस्थिति दर्ज कराना है। प्रार्थना सभा, सांस्कृतिक कार्यक्रम, क्रीड़ा प्रतियोगिता आयोजित नहीं होगा। सभी क्लासों को सेनेटाइज्ड करने के भी निर्देश हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें