निर्देश:‘एबीसीडी’ एप में होंगे सीबीएसई 10वीं-12वीं के मार्क्सशीट और सर्टिफिकेट

सासाराम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डिजिलॉकर के बाद सीबीएसई बोर्ड ने छात्रों की सुविधा के लिए की है नई व्यवस्था

एबीसीडी’ में सीबीएसई 10वीं-12वीं के छात्र-छात्राओं को सभी मार्क्सशीट-सर्टिफिकेट मिलेंगे। डिजिलॉकर के बाद अब सीबीएसई ने सर्टिफिकेट में फर्जीवाड़े और छात्रों की सुविधा के लिए यह नया प्रयोग किया है। एटीएम कार्ड की तर्ज पर यह एकेडमिक ब्लॉक चेन डॉक्यूमेंट यानी एबीसीडी होगा जिसमें सभी मूल प्रमाण पत्र होंगे। किसी भी तरह के फर्जीवाड़े पर रोक लगाने को सीबीएसई की ओर से यह बड़ी पहल की गई है। सीबीएसई ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ मिलकर यह तकनीक तैयार की है। एबीसीडी को एक समाधान के तौर पर लिया गया है। ब्लॉक चेन टेक्नोलॉजी यह सुनिश्चित करती है कि शैक्षणिक दस्तावेज सुरक्षित हैं और इसमें किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जा सकती है। न ही कोई अन्य इन शैक्षणिक दस्तावेजों तक पहुंच सकता है।

एटीएम की तर्ज पर छात्रों के पास होगा कार्ड

सीबीएसई ने कहा है कि प्रमाणपत्रों की प्रामाणिकता का सत्यापन एक चुनौती है। इसके तहत ही यह पहल हुई है। क्यूआर कोडेड एकेडमिक सर्टिफिकेट जैसे मार्क्सशीट, माइग्रेशन सर्टिफिकेट और पास सर्टिफिकेट, सभी इसमें होंगे। किसी भी छात्र के सर्टिफिकेट के सत्यापन लिए विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों का अब चक्कर नहीं लगाना होगा। एटीएम की तर्ज पर यह कार्ड छात्रों के पास होगा। उच्च अध्ययन के लिए प्रवेश के समय और नौकरी की पेशकश के लिए कंपनियों की ओर से सर्टिफिकेट मांगने पर छात्र इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगले माह से छात्रों को एबीसीडी देने से होगी शुरुआत
सीबीएसई स्कूल संगठन के सतीश कुमार झा ने बताया कि सीबीएसई एबीसीडी की शुरुआत इस सत्र के छात्रों को रिजल्ट देने में करने जा रहा है। सीबीएसई की ओर से इसे अगले महीने उपलब्ध कराया जाएगा। वर्ष 2019-2021 के लिए 10वीं और 12वीं कक्षा के बच्चों को यह मिलेगा और धीरे-धीरे पिछले वर्षों के प्रमाणपत्रों को भी इससे जोड़ा जाएगा।

खबरें और भी हैं...