निर्देशा जारी:जिले में कल से शुरू होनेवाली काउंसिलिंग की प्रक्रिया स्थगित, शिक्षक अभ्यर्थियों में निराशा

सासारामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निर्धारित कार्यक्रम की सूचना प्राप्त होने के बाद काउंसिलिंग की नई तिथि तय की जाएगी

जिले के प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षक नियोजन के तहत 14 दिसंबर से शुरू होनेवाली काउंसिलिंग की प्रक्रिया स्थगित कर दी गयी है। पंचायत चुनाव 2021 के पूर्ण रूप से समाप्त नहीं होने के कारण काउंसिलिंग स्थगित की गयी है। शिक्षा विभाग बिहार सरकार के उप सचिव अरशद फिरोज ने इसकी अधिसूचना जारी की है। जिसमें बताया गया है कि विभाग ने राज्य निर्वाचन आयोग से छह दिसम्बर को ही वर्तमान पंचायत चुनाव के समापन के उपरांत पंचायत समिति के प्रमुख व जिला परिषद के अध्यक्ष के चुनाव के लिए निर्धारित कार्यक्रम की सूचना मांगी थी।

लेकिन, 11 दिसंबर तक यह सूचना नहीं दिए जाने के बाद विभाग ने काउंसिलिंग कार्यक्रम को तत्काल प्रभाव से स्थगित करने का निर्णय लिया है। निर्वाचन आयोग से निर्धारित कार्यक्रम की सूचना प्राप्त होने के बाद काउंसिलिंग की तिथि तय की जाएगी। यहां बता दें कि प्रारंभिक शिक्षक नियोजन 2019 के तहत 14 से 22 दिसंबर तक क्रमवार काउंसिलिंग होनी थी। काउंसिलिंग की प्रकिया स्थगित होने से शिक्षक अभ्यर्थियों में निराश देखने को मिल रही है।

शेष नियोजन इकाईयों की होनी थी काउंसिलिंग
वैसी नियोजन इकाईयां जहां जुलाई और अगस्त में प्रारंभिक शिक्षकों के नियोजन के लिए किसी कारणवश काउंसिलिंग नहीं हुई थी, वहां नियोजन कार्यक्रम के काउंसिलिंग की तिथियां निर्धारित की गयी थीं। विभाग द्वारा घोषित कार्यक्रम के मुताबिक नगर निकायों में 14 दिसंबर को कक्षा छह से आठ के सामाजिक विज्ञान, 15 दिसंबर को कक्षा छह से आठ के गणित, विज्ञान व भाषा विषय और 16 दिसंबर को कक्षा एक से पांच तक के लिए अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग की जानी थी। वहीं, प्रखंड नियोजन इकाईयों में 17 दिसंबर को कक्षा छह से आठ के सामाजिक विज्ञान, 18 दिसंबर को कक्षा छह से आठ के गणित, विज्ञान व भाषा विषय के लिए काउंसिलिंग होनी थी। जबकि, पंचायत नियोजन इकाई में 22 दिसंबर को कक्षा एक से पांच तक के लिए काउंसिलिंग होनी थी।

खबरें और भी हैं...