पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जान से खिलवाड़:प्रतिबंध के बावजूद दुकानें खोल रहे

सासारामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धर्मशाला रोड में हार्डवेयर व मिठाई के अलावा ठाकुर मार्केट में कपड़े व कॉस्मेटिक की दुकानों से कहीं चोरी से तो कहीं खुलेआम बिक्री। - Dainik Bhaskar
धर्मशाला रोड में हार्डवेयर व मिठाई के अलावा ठाकुर मार्केट में कपड़े व कॉस्मेटिक की दुकानों से कहीं चोरी से तो कहीं खुलेआम बिक्री।
  • अपने व्यापार के चक्कर में लोगों की सुरक्षा के साथ खेल रहे दुकानदार, इनके लिए गाइडलाइन के कोई मायने नहीं

कोरोना वायरस से उपजे संकट से निपटने के लिए शासन-प्रशासन, पुलिस और स्वास्थ्य महकमा दिन रात जुटा हुआ है। लोगों की जरूरत को देखते हुए प्रशासन ने लॉकडाउन में कुछ शर्तों के साथ आवश्यक सेवाओं में शामिल चीजों से जुड़ी दुकानों को खोलने की अनुमति दी है, लेकिन सुबह के समय में शहर में निकल जाइए तो करीब 80 फीसद दुकानें किसी न किसी रूप में खुली हुई मिल जाएगी। शहर में तमाम दुकानों के बाहर मोबाइल नंबर चस्पा किया गया है। दुकान बंद रहती है और इन नंबरों पर जब संपर्क किया जाता है तो भीतर बैठा व्यापारी कहता है भइया, शटर उठाकर अंदर आ जाइए।

लॉकडाउन के दूसरे दिन दैनिक भास्कर के संवाददाता द्वारा गुरुवार को सासाराम के विभिन्न बाजारों का जायजा लिया गया तो स्थिति बेहद चौंकाने वाले दिखी। लॉकडाउन में जिन दुकानों के खोलने पर प्रतिबंध है वह किसी का किसी रूप में खुली दिखी। किसी का शटर पूरी तरह से खुला हुआ था तो किसी का आधा। कुछ दुकानदार शटर गिराकर दुकान के आसपास खड़े दिखे। कोई ग्राहक दुकान के आसपास आता तो उसके नजदीक जाकर पूछते की भैया क्या लेना है। अगर उनके दुकान से संबंधित समान लेने वाला ग्राहक रहता है तो दुकान का शटर उठाकर अंदर ले जाते हैं फिर उनको जरूरत के समान उपलब्ध करा देते हैं। ऐसे लोगों को शायद पैसा कमाने से मतलब है। लोगों की सुरक्षा एवं प्रशासन के दिशा-निर्देश से इन्हें कोई लेना देना नहीं है।

धर्मशाला रोड, गोला बाजार, ठाकुर मार्केट, नवरतन बाजार, डाकबंगला मार्केट सहित अन्य बाजारों में गुरुवार को मिठाई, रेडीमेड कपड़ा, साड़ी, आभूषण, जूता-चप्पल, हार्डवेयर, इलेक्ट्रॉनिक एवं मोबाइल शॉप सहित लगभग सभी दुकानें खुली रही। इन सभी दुकानों के खुलने पर 15 मई तक के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। इसके बावजूद ये नियम को ताक पर रख अपना व्यापार चलाने में मशगूल हैं। लोगों ने कहा जो दुकानदार गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे उनके दुकान को सील कर कानूनी करवाई करनी चाहिए। सदर एसडीएम मनोज कुमार ने कहा कि दुकान खोलकर लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। फोटो व वीडियो के आधार पर उनको चिह्नित किया जा रहा है। उसके बाद उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...