पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नमाज अदा किया:शांति उत्साह के साथ मनाया गया ईद उल अजहा, अपने अपने घर में नमाज अदा किया

सूर्यपुरा/दावथ/ नासरीगंज/ काराकाट8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सूर्यपुरा व दावथ में माना बकरीद। - Dainik Bhaskar
सूर्यपुरा व दावथ में माना बकरीद।

त्याग और बलिदान का त्यौहार ईद उल अजहा शांति और उत्साह के साथ मनाया गया।नमाजियों ने अपने अपने घरों में नमाज अदा कर देश व समाज की खुशहाली के लिए दुआ की।नमाज के बाद लोगों ने एक दूसरे को बकरीद की बधाई दी।नमाज के बाद कुर्बानी की रस्म अदा की गई। कोरोना वायरस के चलते सरकार व प्रशासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों के तहत ईदगाह में केवल पांच लोगों ने ईद की नमाज अदा की।मस्जिदों में भी इमाम सहित कुल पांच लोगों ने ईद उल अजहा की नमाज अदा कर दुआएं मांगी।

आम लोगों ने घरों में ही नमाज अदा की।कोविड -19 के चलते लोगों ने एक दूसरे को गले लगाने से परहेज करते हुए खैरमकदम व सलाम पेश किए।जामा मस्जिद में इमाम नूर अहमद,छोटी मस्जिद में इमाम कारी जावेद अनवर,काश्मीरी मस्जिद में इमाम कारी मो.अजीमुद्दीन ने नमाज अदा कराई।कारी मो.अजीमुद्दीन ने दुआ करते हुए कहा कि ईद-उल-अजहा का पर्व कुर्बानी का पर्व है।जो गरीबों,जरूरतमंदों की सहायता के लिए प्रेरित करता है।कारी जावेद अनवर ने कहा कि यह त्योहार एक दूसरे के प्रति भाईचारा व मेलजोल बढ़ाने वाला पर्व है।मो.अय्यूब खान ने प्रदेशवासियों को ईद उल अजहा की बधाई देते हुए कहा कि एकता,भाईचारे व सौहार्द को बढ़ाने वाले पर्वों से ही हमारी मिली जुली पहचान है।बकरीद पर कुर्बानी करने वाले को खुदा अनेकों रहमतों से नवाजता है।सुबह से ही पुलिस प्रशासन विभिन्न मस्जिदों में तैनात रहा।सरकार के दिशा निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए अधिकारी भी मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों का जायजा लेते रहे। सिटी रिपोर्टर सूर्यपुरा/दावथ के अनुसार सूर्यपुरा व दावथ प्रखंड में कोरोना से सुरक्षा को लेकर ईद उल अजहा (बकरीद) पर्व पर मस्जिदों में लटका ताला, वही बुधवार को मुस्लिम समुदाय के लोग अपने-अपने घरो में नमाज अदा की । ईद-ऊल-जुहा (बकरीद) पर्व त्याग और बलिदान की याद दिलानेवाला एंव महत्व को समझाने वाला पर्व है । दावथ प्रखंड क्षेत्र के बिठवा, महुआरी, सहीनाव, बभनॉल, सेमरी, डेढ़गाँव, नगर पंचायत कोआथ सहित अन्य गांवों में कोरोना काल की वजह से लगातार दूसरे साल भी घरो में ही एक दूसरे से नमाजियो ने गले मिल खुशियाँ मनाया ।

वही बड़ी मस्जिद सूर्यपुरा बलिहार के मौलाना अनवारूल इस्लाम ने कहा कि कुर्बानी का अर्थ है खुद को खुदा के नाम पर कुर्बान कर देना यानि अपनी सबसे प्यारी चीज का त्याग करना। इस दौरान दावथ में सीओ नवलकांत , थानाध्यक्ष अतवेंद्र कुमार सिंह व सूर्यपुरा में सीओ अनिल प्रसाद सिंह, थानाध्यक्ष मनोज कुमार सहित पुलिस बल के जवान मस्जिदों व आसपास के बाजारों व सड़कों पर गश्ती करती रही। सिटी रिपोर्टर नासरीगंज के अनुसार नासरीगंज व कच्छवा थाने की पुलिस प्रशासन बकरीद पर्व को लेकर पूरी तरह से सतर्क एवं मुस्तैद है।

इसी को लेकर बुधवार को बीडीओ मोहम्द जफर इमाम,नासरीगंज थानाध्यक्ष सुभाष कुमार,कच्छवा थानाध्यक्ष कुमार गौरव और सीओ अमित कुमार ने नासरीगंज व कच्छवा थाना क्षेत्र अंतर्गत शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में स्वयं दल बल के साथ भ्रमण किया और लोगों से सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण बकरीद मनाने के लिए अपील किया। जिसमें मस्जिदों की बजाएं घरों में नमाज पढ़ने के लिए कहा गया है।साथ ही साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सुरक्षित तरीके से पर्व को मनाने के लिए भी पुलिस प्रशासन ने अपील किया है। बीडीओ मोहम्द जफर इमाम ने कहा कि संक्रमण को देखते हुए गाइडलाइन के अनुसार ही लोग अपने-अपने त्योहार को मनाए। उन्होंने सभी धर्मों के लोगों से शांति और सौहार्द पूर्वक वातावरण में पर्व एवं त्योहार मनाने के लिए अपील किया।

थानाध्यक्ष सुभाष कुमार व कुमार गौरव ने कहा कि थाना क्षेत्र के अंतर्गत सभी मस्जिदों का भ्रमण कर जायजा लिया गया। सभी जगहों पर लोग घरों में ही पर्व को मना रहे है। बकरीद पर्व को देखते हुए थाना क्षेत्रों के सभी शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में चौकसी बढ़ाई गई है। इसके लिए सभी जगहों पर पुलिस अधिकारी के साथ पुलिस बल की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि थाना क्षेत्र के विभिन्न संवेदनशील जगहों पर पुलिस अधिकारी की तैनाती की गई है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पर्व के दौरान असामाजिक तत्व पर भी नजर रखी जा रही है।

सीओ अमित कुमार ने लोगों से अपील किया कि अफवाहों पर ध्यान ना दें। यदि कोई भी आपत्तिजनक खबरें मिलती हो तो तत्काल उसे पुलिस को सूचित करें। सीओ ने बताया कि शांति समिति के बैठक के दौरान दिशा निर्देश जारी किए गए हैं और लोगों से सौहार्दपूर्ण माहौल में पर्व को मनाने के लिए अपील किया गया है। थानाध्यक्षों ने कहा कि बकरीद पर्व के दौरान सभी पुलिस अधिकारियों को चौकसी बरतने के लिए कहा गया है। जब तक पर्व खत्म नहीं होता तब तक पुलिस बल की तैनाती जारी रहेगी। सिटी रिपोर्टर काराकाट के अनुसार मुसलमान भाइयों का त्योहार बकरीद शांतिपूर्ण माहौल में सम्पन्न हुआ। इस दौरान लोगों ने कुर्बानी से लेकर विभिन्न मस्जिदों में नमाज अदायगी तक कोरोना प्रोटोकाल का भरपूर ख्याल रखा।

खबरें और भी हैं...