पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चुनाव की तैयारी:बिहार के लोग कन्फ्यूजन में रहने वाले नहीं, यहां फिर से बनेगी एनडीए सरकार : मोदी

सासाराम \बिक्रमगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नई शक्ति के उभरने की बात फैलाई जा रही है... मतदाता हैं बहुत समझदार, जनता इतनी मूर्ख नहीं कि वह लालटेन युग में वापस जाए
  • अब जब बिहार विकास की पटरी पर आकर दौड़ना शुरू किया है तो वे ललचाई नजरों से इसकी ओर देखने लगे हैं

बिहार विधानसभा 2020 चुनाव में रोहतास के सुअरा हवाई अड्‌डा पर पहली चुनावी रैली में प्रचार का आगाज करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्पष्ट लहजे से कहा कि बिहार की जनता कन्फ्यूजन में रहने वाली नहीं है। यहां फिर से बन रही है एनडीए की सरकार। कुछ लोग अचानक से आकर किसी नई शक्ति के उभरने की बात फैला रहे हैं। पर बिहार के मतदाता इतने समझदार हैं कि हमेशा से अपने सतर्क निर्णय देकर लोकतंत्र के महापर्व चुनाव में समझदारी से काम लेते आए हैं।

प्रधानमंत्री ने अपने चुनावी भाषण में बिहार में एनडीए सरकार के विपक्ष में बैठे लोगों पर निशाना साधते हुए बताया कि जो लोग बिहार को विकास की दौड़ में पीछे छोड़ चुके थे। अब जब बिहार विकास की पटरी पर आकर दौड़ना शुरू किया है तो वे ललचाई नजरों से इसकी ओर देखने लगे हैं। बिहार की जनता इतनी मुर्ख नहीं की वह लालटेन युग में वापस जाए। क्योंकि यहां एनडीए की सरकार ने गरीब गुरूबों के घरों को भी बिजली की चमचमाती रौशनी से रौशन किया है। प्रधानमंत्री पैकेज से मिली राशि के बाद बिहार जिस गति से आगे बढ़ रहा है उसकी कल्पना भी विरोधी नहीं कर पाए होंगे।

हम कोरोना काल में गरीब गुरूबों के बीच मुफ्त अनाज पहुंचाने से लेकर उन्हें पांच लाख रुपए तक मुफ्त इलाज की सुविधाएं देकर निचले तबके के दलित, महादलित, पिछड़े, आदिवासी आदि समाज के प्रति अपनी सकरात्मक सोच उजाकर कर चुके हैं। उन्होंने ठेला और रेवाड़ी वालों को बैंकों से आसान लोन दिए जाने की बात याद दिलाते हुए कहा कि यह क्रम अभी जारी रहेगा। कुछ लोग हैं जो राह में रोढ़ा अटकाकर विकास में बाधक बने हुए हैं। प्रधानमंत्री के मंच पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल, सांसद आरके सिंह, सांसद छेदी पासवान मौजूद थे। इस सभा का संचालन प्रदेश भाजपा की उपाध्यक्ष निवेदिता सिंह ने किया। जबकि बगल में बने मंच पर एनडीए प्रत्याशी के रूप में बिहार सरकार के निवर्तमान विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्री जयकुमार सिंह, विधायक ललन पासवान, डॉ अशोक कुमार, वशिष्ठ सिंह, विधायक सत्यनारायण सिंह, पूर्व विधायक राजेश्वर राज आदि मौजूद थे।

प्रधानमंत्री ने अपने चुनावी भाषण में बिहार में एनडीए सरकार के विपक्ष में बैठे लोगों पर निशाना साधते हुए बताया कि जो लोग बिहार को विकास की दौड़ में पीछे छोड़ चुके, ठेला और रेवाड़ी वालों को बैंकों से आसान लोन दिए जाने की बात याद दिलाते हुए कहा कि यह क्रम अभी जारी रहेगा

जब-जब बिचौलियों व दलालों पर पड़ती है चोट तो तिलमिला जाता है विपक्ष, धान के कटोरा में सोनाचूर चावल को भी किया याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 राफेल सहित कई राष्ट्रीय मुद्दों को उठाकर अपनी चुनाव सभा के माध्यम से विपक्ष पर करारा प्रहार किया। कहा कि जब-जब एनडीए की सरकार बिचौलियों व दलालों पर चोट पहुंचाती है तो वे तिलमिला जाते हैं। उसके बाद देश को कमजोर करने की साजिश करने लगते हैं। यहां तक की देश के खिलाफ काम करने वाली शक्तियों से हाथ भी मिला लेते हैं। नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो लोग दशकों से लंबित पड़े काश्मीर में धारा 370 हटाने की प्रकिया के विरोध में थे।

वे अब दूसरी शक्तियों से हाथ मिलाकर इसे पुन: बहाल करने की साजिश रचने लगे हैं। राफेल के भारत आगमन पर मजबूत हुई देश की सीमा सुरक्षा भी वे नहीं पचा पाते। देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने वाले नीतियों को आगे बढ़ाकर पता नही ये लोग क्यों वोट मांगने चले आते हैं। उन्होंने कहा कि बिहार की जागरूक जनता उन्हें बखूबी पहचानती है। जो देश तोड़ने वाली शक्तियों के साथ हाथ मिलाकर वोट मांगने के लिए यहां चलते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में स्थानीय समस्याओं और उपलब्धियों पर भी पूरा जोर दिया।

70 के दशक में शुरू की गई तत्कालीन केंद्रीय मंत्री बाबू जगजीवन राम के हाथों की परियोजना दुर्गावती जलाशय को लेकर उन्होंने बताया कि जब तक विरोधियों की सत्ता रही यह परियोजना लंबित पड़ी रही। एनडीए की सरकार आई तो इसे शुरू करा दिया। जिससे धान के कटोरा में रहने वाले किसानों के हालात सुधरने लगे हैं। उन्होंने कहा कि अब इस क्षेत्र में पैदा होने वाली सोनाचुर चावल की ब्रांडिंग व मार्केटिंग स्थानीय स्तर पर हीं होगी। जिससे किसानों को उनके उत्पादन का पूरा लाभ मिल सकेगा। प्रधानमंत्री नें कहा कि बिहार की हर योजना को लटकाने वाले लोग अब उनके पूरे हो जाने पर फिर लूटपाट मचाने के लिए सत्ता में आ रहे हैं। जिससे सावधान रहना है।

भोजपुरी में ताराचंडी और मां मुंडेश्वरी को नमन कर की अपने भाषण की शुरूआत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुअरा हवाई अड्‌डे पर आयोजित बिहार विधानसभा 2020 चुनाव के पहले मंच पर भाषण की शुरूआत भोजपुरी में की। कहा कि”आप सब लोग के प्रणाम करतानी, मां ताराचंडी और मंुडेश्वरी माता के एेह पावन धरती के छू के अभिनंदन करतानी, हम रउरा सभे से अतना जुड़बानी की जब भी बिहार आवे के मौका मिलल त पहुंच अईनी”। प्रधानमंत्री ने इस भाषण को आगे बढ़ाते हुए रोहतास कैमूर के अलावे के पूरे शाहाबाद के धरती को नमन करते हुए कहा कि हमेशा से यहां के लोग लोकतंत्र की रक्षा में समझदारी से निर्णय लिए हैं। इस बार भी एनडीए की बन रही सरकार में आप लोगों की भागीदारी सार्थक होगी।
शहीद जवानों सहित रामविलास और रघुवंश बाबू को नमन
प्रधानमंत्री अपने भाषण को आगे बढ़ाते हुए मंच से बिहार के दो बड़े राजनीतिक दिग्गज रामबिलास पासवान और रघुवंश प्रसाद सिंह की मौत पर दुख जताया। कहा कि मैं हमेशा इन लोगों से जुड़ा रहा हूं। इनके साथ जुड़े रहने से बिहार और बिहारियत का एहसास भी महसूश हुआ। उनकी मौत मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति के समान है। प्रधानमंत्री ने बिहार के उन जवानों को भी यादकर श्रद्धांजलि दी जो गलवान व पुलवामा में देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए। उनके परिवारों के प्रति नरेंद्र माेदी ने अपनी गहरी सहानुभूति जताई। साथ ही कहा कि बिहार के नौजवानों ने देश की सीमा पर जिस तरह से कुर्बानी दी है वह इस धरती की त्याग बलिदान की भावना को राष्ट्रीय पटल पर उजाकर करती है।

यूपीए सरकार ने सीएम का कभी नहीं दिया साथ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंच पर मौजूद राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नीतियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री हुआ करता था। तब भी ये बिहार के मुख्यमंत्री थे। 2004 से 2014 तक की केंद्र की यूपीए सरकार कभी भी इन्हें सहयोग नहीं किया। जिससे ये बिहार की विकास कर सकें। 2014 में जब हम सत्ता में आए तो बिहार के विकास की गाड़ी पटरी पर आई। बीच के 18 महीनें में एक बार यह विकास फिर रूका। क्योंकि रूके हुए विकास को देखकर नीतीश कुमार ने सत्ता मोह छोड़ दिया था। हम पुन: आगे बढ़े उनके साथ बिहार में एनडीए की सरकार बनी। फिर बिहार में विकास की गाड़ी तेजी से दौड़ने लगी है। केंद्र और राज्य में एनडीए सरकार के पांच छह साल ही हुए हैं। उसमें हुए विकास का आकलन कर लें पता चलेगा कि बिहार कितना आगे निकला है। अब यही कारण है कि विपक्षी बढ़ते बिहार की ओर ललचाई नजरें से देख रहे हैं।​​​​​​​

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बिहार के सहयोग को सराहा

प्रधानमंत्री नें अपने भाषण की शुरूआत में कोरोना काल पर बोलते हुए कहा कि इस लड़ाई में बिहार के लोगों ने जो दिलाने दिखाई। वह एक उदाहरण बन गया है।कोरोना काल के दौरान केंद्र सरकार ने गरीबों, के लिए जो प्रयास किया उसमें आपलोगों का योगदान बड़ा ही सराहनीय रहा।
74 लाख किसानो के खाते में गई 6000 करोड़ की राशि
प्रधानमंत्री नें किसानों के लिए एनडीए सरकार की योजनाओं में सबसे महत्वपूर्ण 74 लाख किसानों के खाते में गए छह हजार करोड़ रूपए की चर्चा को आगे बढ़ाते हुए कहा कि छोटे किसानों, मछुआरों, पशुपालकों के लिए क्रेडिट कार्ड की योजना है।​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें