BJP छोड़ LJP जानेवाले राजेंद्र सिंह की हुई घर वापसी:बेतिया में प्रदेश अध्यक्ष ने किया स्वागत, दिनारा और सासाराम में भी बंटी मिठाइयां

सासाराम5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बेतिया में राजेंद्र सिंह का स्वागत करते भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल। - Dainik Bhaskar
बेतिया में राजेंद्र सिंह का स्वागत करते भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल।

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के दौरान दिनारा से चुनाव लड़ने के लिए लोजपा में शामिल हुए भाजपा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व झारखंड के पूर्व संगठन मंत्री ने रविवार को घर वापसी कर ली है। भाजपा में फिर से शामिल होने पर उनका भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल द्वारा स्वागत किया गया। उनके घर वापसी पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने दिनारा से लेकर जिला मुख्यालय सासाराम में मिठाइयां बांट खुशी जताई।

ज्ञात हो कि राजेंद्र सिंह लंबे समय तक झारखंड बीजेपी के संगठन मंत्री थे। 2015 में वे झारखण्ड से बिहार विधानसभा के दिनारा सीट से चुनाव लड़ने के लिए लौटे थे। परंतु 2015 में जदयू के मंत्री जयकुमार सिंह से मामली अंतर से चुनाव हार गए थे। लेकिन इसके बाद भी वे लगातार दिनारा में सक्रिय रहे और 2020 के चुनाव की तैयारी में लगे रहे। लेकिन बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में टिकट बंटवारे में दिनारा सीट को जदयू को दे दी गई थी।

सासाराम में जश्न मनाते राजेंद्र सिंह के समर्थक।
सासाराम में जश्न मनाते राजेंद्र सिंह के समर्थक।

इसके बाद निराश भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष व झारखंड के पूर्व संगठन मंत्री राजेंद्र सिंह ने लोक जनशक्ति पार्टी का दामन थाम लिया था। वे दिनारा से ही लोजपा के प्रत्याशी बने। वे जदयू के मंत्री जयकुमार सिंह को पीछे छोड़ने में सफल रहे, लेकिन इस बार राजद प्रत्याशी से हार फिर दुसरे स्थान पर ही रहे। चुनावी हर के कुछ ही माह बाद उन्होंने लोजपा छोड़ दिया था। तब से ही उनके बीजेपी में वापसी के कयास लगाए जा रहे थे।

भाजपा में घर वापसी के बाद राजेन्द्र सिंह ने कहा कि मेरा पूरा राजनीतिक जीवन जनसेवा और राष्ट्र निर्माण के लिए समर्पित रहा है। सभी साथियों और समर्थकों का आभार, जिन्होंने हर विषम परिस्थिति में मेरे ऊपर भरोसा बनाये रखा। भारतीय जनता पार्टी का एक बार फिर से हिस्सा बन कर खुद को सौभाग्यशाली महसूस कर रहा हूं।