पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पथराव:विसर्जन के दौरान डीजे बजाने से मना करने गई पुलिस पर किया पथराव

सासाराम12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के फजलगंज में बुधवार देर शाम को प्रतिमा विसर्जन के दौरान कथित तौर पर डीजे बंद कराने गई पुलिस पर आक्रोशित भीड़ ने पथराव किया। पुलिस को हालात नियंत्रित करने के लिए हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। हालांकि पथराव में एक सिपाही के घायल होने की सूचना है, जबकि आक्रोशित पूजा कमिटी की ओर से किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। बताते चलें कि मूर्ति विसर्जन के दौरान जब पुलिस ने डीजे को बंद करने की बात कही गयी तो कुछ शरारती तत्व युवकों की भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया गया ताे पुलिस ने भी भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्का बल का प्रयोग कर मामले को शांत किया। फिलहाल फजलगंज में मामला शांत है।

पुलिस ने इस मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार भी किया है। साथ ही डीजे, जनरेटर सहित दो पिकअप भान वाहन जब्त किया गया है। बता दें कि नटराज होटल के सामने क्रांति लॉज के समीप कुछ समय तक ईलाका रणक्षेत्र में तब्दील हो चुका था। पुलिस उपद्रवियों को पकड़ने के लिए खदेड़ रही थी। लेकिन जुलूस में शामिल सभी इधर-उधर गली में छिपते हुए भाग खड़े हुए। उसके बाद पुलिस ने प्रतिमा सहित डीजे बंधे वाहन को अपने कब्जे में लेकर शहर के फजलगंज दुर्गा कुंड में प्रतिमा को विसर्जित कर दिया।

हालांकि विसर्जन जुलूस में शामिल दो वाहन को भी जब्त कर लिया गया है। इस संबंध में सासाराम नगर थानाध्यक्ष कामाख्या नारायण सिंह ने बताया कि फजलगंज में मूर्ति विसर्जन में जुलूस द्वारा डीजे पर उत्तेजक गीत बजाए जा रहे थे। जिसपर प्रशासन ने रोक लगाई तो शरारती तत्व युवकों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि इस घटना में शरारती तत्वों का ही हाथ है। पुलिस उन्हें चिन्हित कर रही है। हालांकि इस मामले में तीन युवकों को दौड़ाकर धर दबोचा गया, जो पुलिस गिरफ्त में हैं। पुलिस के मुताबिक तीनों को जेल भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें