पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्राथमिकी:नर्तकी की संदिग्ध िस्थती में मौत के बाद खुला सेक्स रैकेट का राज, मां ने दर्ज कराई प्राथमिकी

सासाराम7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बरामद युवतियां - Dainik Bhaskar
बरामद युवतियां
  • संचालिका रेखा देवी सहित पांच गिरफ्तार, रक्सौल व मुजफ्फरपुर से आती हंै लड़कियां, हुई कार्रवाई

बिक्रमगंज के दिनारा रोड में दो दिन पूर्व एक नर्तकी की संदिग्ध मौत ही वहां चल रहे सेक्स रैकेट के भंडाफाेड़ का कारण बना। जब मृतका की मां ने प्राथमिकी दर्ज करा पांच लोगों के उपर हत्या का आरोप लगाया। फिर जांच में पहुंची पुलिस ने पूछ ताछ शुरू की तो एक-एक कर सेक्स रैकेट के परत उभरकर सामने आने लगे। मामला मानव तस्करी और अन्य घृणित कार्यों की ओर जाता दिखा। इस बाबत कमजोर वर्ग की एसपी बीना कुमारी ने बताया कि 19 जुलाई को बाल कल्याण समिति के तरफ से इसकी सूचना मिली।

तत्काल रेस्क्यू टीम का गठन किया गया। रात भर छापेमारी हुई तो रैकेट की संचालिका रेखा देवी का नाम उजागर हुआ। उसके बाद नौ युवतियों को इस रैकेट के चंगुल से मुक्त कराया गया। उधर कार्रवाई करते हुए शंकर नट, गोपाल नट, विकास व सोनू की गिरफ्तारी हुई। पास्को एक्ट हत्या मानव तस्करी के अलावा अपहरण जैसी धाराएं लगाई गई। रेसक्यू टीम ने जब रेखा देवी व अन्य आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की तो उनके कमरों से वहीं उसके घर से 1 लाख 71 हजार रुपए नकदी व भारी संख्या में गर्भ निरोधक और गर्भपात कराने वाली दवाईयां मिली।

बरामद नौ लड़कियों में से छह नाबालिग
रेसक्यू टीम ने जब छापेमारी की तो बरामद हुई नौ लड़कियों में से छह नाबालिग निकली। जिसकी पुष्टि मेडिकल जांच से हुई है। पूछ ताछ पर पता चला कि यह रैकेट बिक्रमगंज, सासाराम के अलावे रक्सौल, मुज्जफरपुर आदि जगहों पर सक्रिय था। जहां से नाच गान के नाम पर लड़कियों को लाकर उन्हें जबरन देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया जाता था। अगर लड़की ने मना किया तो उसके साथ मारपीट होती थी। काफी प्रताड़ना देकर देह व्यापार के लिए मजबूर किया जाता था।

खबरें और भी हैं...