पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भ्रष्टाचार की टंकी:शेखोपुरसराय के पांची गांव में पेयजल के लिए ग्रामीणों को झेलनी पड़ रही है काफी परेशानी

शेखोपुरसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शेखोपुरसराय के पांची गांव में टूटी हुई पानी टंकी। - Dainik Bhaskar
शेखोपुरसराय के पांची गांव में टूटी हुई पानी टंकी।
  • एक साल से सात निश्चय से बनी टंकी टूटी हुई है

शेखोपुरसराय प्रखंड अंतर्गत पांची गांव में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत बनाए गए पानी टंकी पिछले 1 साल से गांव की शोभा बढ़ा रही है। दरअसल सात निश्चय योजना के तहत पांची गांव के वार्ड नंबर 6 में 2 साल पूर्व टंकी का निर्माण किया गया था। लेकिन गुणवत्ताहीन रहने के कारण 1 साल बाद ही पूरी तरह से टूटकर बिखर गया है।

जिसको लेकर ग्रामीणों के द्वारा कई बार मुखिया एवं प्रशासन से जलमीनार की मरम्मत कराने की मांग की गई। लेकिन अब तक इसी प्रकार की पहल नहीं की गई है। जिसके कारण पिछले 1 सालों से जल मीनार की टंकी टूटी पड़ी हुई है। इस बाबत ग्रामीणों ने बताया कि संवेदक एवं मुखिया के मिलीभगत के द्वारा गुणवत्ताहीन कार्य किए जाने के कारण 1 साल में ही टंकी टूट कर बर्बाद हो गई।

सके बाद से नल जल योजना के तहत लोगों को शुद्ध पेयजल घरों तक नहीं पहुंच रही है। इसके साथ ही ग्रामीणों ने बताया कि टंकी निर्माण के दौरान घरों तक पानी के पाइप पहुंचाने के लिए सड़क को तोड़कर पाइप लाइन बिछाया गया। लेकिन उसकी भी मरम्मत नहीं की गई।

जिसके कारण सड़क पर जगह-जगह गड्ढे बने हुए हैं। जिसमें अक्सर वाहन चालक दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। वही बरसात के दिनों में पानी जमा होने के कारण अधिक परेशानी होती है। इस बाबत बीडीओ अमरेंद्र कुमार अमर ने बताया कि इसकी जांच की जा रही है। जांच में दोषी पाए जाने वाले सभी लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा संवेदक को टूटे हुए टंकी का बदलाव करने का निर्देश दिया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...