भास्कर इंपैक्ट:फजीहत झेलने के बाद मिस्त्री को राशि देने का मिला आश्वासन, फिर से लगाई खिड़की

शेखपुरा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
खिड़की लगाते मिस्त्री। - Dainik Bhaskar
खिड़की लगाते मिस्त्री।

सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में एक वर्ष पूर्व शीशा रहित खिड़की लगाई गई थी। जिसकी राशि के लिए उक्त मिस्त्री लगातार सदर अस्पताल का चक्कर काट रहे थे। लेकिन एक वर्ष बीत जाने के बावजूद उसे राशि नहीं मिली। जिससे नाराज़ मिस्त्री ने गुरुवार को सभी खिड़कियों को खोलकर ले जाने लगा। वहीं, इस दौरान सदर अस्पताल के कर्मियों एवं गार्ड द्वारा विरोध करने पर वह खिड़की को छोड़कर निकल गया। जिससे कारण गुरुवार की देर रात इस कपकपाती ठंड में मरीजों को काफी परेशानी का सामना पड़ा। जिसे दैनिक भास्कर ने प्रमुखता से इसे शुक्रवार के अंक में प्रकाशित किया था। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग को काफी फ़ज़ीहत झेलनी पड़ी। जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने उक्त मिस्त्री बुलाकर काफी समझाया-बुझाया और जल्द ही राशि देने का आश्वासन दिया। जिसके बाद शुक्रवार को उक्त मिस्त्री ने पुनः खोले गए खिड़की को लगा दिया। जिससे सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में रह रहे मरीजों को राहत प्रदान हुई।

खबरें और भी हैं...