पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना लॉक-क्राइम अनलॉक:जून तक कोरोना के 5320 संक्रमित मिले आपराधिक मामले भी बढ़े, 599 केस आए

शेखपुरा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
27 अप्रैल को बरबीघा में एक घर लूट की घटना के बाद मायूस परिजन - Dainik Bhaskar
27 अप्रैल को बरबीघा में एक घर लूट की घटना के बाद मायूस परिजन
  • शराब, लूटपाट, बाइक चोरी और साइबर ठगी की घटना में रही बढ़ोतरी

जिले में वर्तमान समय में कोरोना पर नियंत्रण है। लेकिन जिले के विभिन्न स्थानों पर अभी अपराध बढ़ती जा रही है। जिले के विभिन्न स्थानों पर कोरोना का डर खत्म हो गया है लेकिन बाइक चोर, पैसे, जेवर साइबर ठगी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। सुनसान रास्ते में छिनतई की घटना से लोगों को भय होने लगा है। साइबर अपराध की घटना में लगातार बढ़ोतरी हो रही है।

साइबर ठग के द्वारा कई लोगों को अपना शिकार बनाकर करोड़ों की ठगी कर चुके हैं। जिसमें अब तक दर्जनों लोगों को जेल भी भेजा जा चुका है। इस मामले में जिले के साथ-साथ विभिन्न राज्य के पुलिस ने भी छापेमारी कर साइबर ठग को गिरफ्तार की है। वही शराब धंधेबाज भी पीछे नहीं रह रहे हैं‌। दरअसल कोरोना काल के दौरान बिहार सरकार के द्वारा संक्रमण से बचाव को लेकर लॉकडाउन जारी कर दिया गया था। इस दौरान कई लोग बेरोजगार हो गए हैं और कई लोगों का रोजगार छिन गया था। जिसके बाद लोग अपराध कर जेब को भरने में लग गए हैं।

कुछ नए अपराधी भी बेरोजगारी में बढ़ें। शराब तस्करी में पकड़े गए कई तस्कर नए हैं जो कोरोना के बाद इस धंधे में उतरे। आर्थिक संकट के कारण भी अपराध अब तेजी से बढ़ने लगा है।

कोरोना और अपराध
माह संक्रमित अपराध
मार्च 07 193
अप्रैल 1871 157
मई 3415 105
जून 36 144

जून माह में 144 अपराध
एसपी कार्तिकेय के.शर्मा से मिली जानकारी के अनुसार मार्च माह में कुल 193 मामले हैं। इसी प्रकार अप्रैल में 157 जबकि मई में 105 मामले सामने आए। जबकि जून में 144 मामले दर्ज किए गए।

जून में कोरोना कंट्रोल, क्राइम बेलगाम, 144 मामले दर्ज
जून माह में कोरोना पूरी तरह से कंट्रोल में आ गया। लेकिन जिले अपराध बेलगाम हो गया। खासकर बरबीघा नगर परिषद क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में बाइक चोरी एवं लूट की घटना अधिक हो रही है। इसके साथ ही शेखोपुरसराय प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में साइबर क्राइम की घटना में बढ़ोतरी आ रही है। वहीं, जून माह में लगभग 36 संक्रमित मिले हैं। धीरे-धीरे बाजार अनलॉक हुआ और कोरोना के मरीजों में भी हल्के लक्षण दिखे, लेकिन अपराध बेलगाम हो गया। जिले के अलग-अलग थानों में अपराध के 144 मामले दर्ज किए गए। चोरी, जमीनी विवाद में हिंसक झड़प, शराब तस्करी, बालू चोरी, सहित कई बड़े अपराध हुए। अधिकांश जिले में छोटे मामले आए है जिससे समाज में चोरों का खौफ सताने लगा।

मई में कोरोना के 3415 मामले, दर्जनों मौत, अपराध भी 105 : मई माह में कोरोना ने लोगों को खुब रूलाया। जिसमें पॉजिटिव की आंकड़े अप्रैल के तुलना में काफी अधिक रही। गौरतलब है कि मई माह सबसे अधिक 3415 पॉजिटिव मामले मिले। हालांकि जिले में कोरोना से 36 मौते हुई। ये तो सिर्फ सरकारी आंकड़े हैं। लेकिन स्थानीय लोगों के अनुसार जिले में 100 से ज्यादा लोगों को कोरोना के लक्षणों जैसी बीमारी से मौत हुई। जिले के सभी प्रखंड से कोरोना संक्रमण से मौत की सूचना मिली है।

जिले में 6 प्रखंड में 54 पंचायत है। इस माह गंभीर अपराध लॉक रहा। हालांकि मई माह में कुल 105 मामले अलग-अलग सभी थानों में दर्ज हुए, लेकिन गंभीर बड़े अपराध कोई भी नहीं हुए। इस दौरान शराब से जुड़े अधिक मामले पाए गए।

खबरें और भी हैं...