परेशानी:न्यायालय और एसडीओ कोर्ट से घर की डिक्री मिलने पर भी सीओ कर रहे परेशान

शेखपुरा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीड़ित युवक का आरोप- प्रभाव में आकर सीओ करते हैं बेवजह परेशान

जिले में अधिकारियों की मनमानी चरम सीमा पर है और पीड़िता को परेशान करने से बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा मामला चेवाड़ा प्रखंड का है। दरअसल, चेवाड़ा बाजार निवासी मो.अमजद अली उर्फ़ मौली की घर पर दो पक्षों के बीच विवाद चल रहा था, जिसकी शेखपुरा न्यायलय ने डिक्री मो.अमजद अली के पक्ष में दिया था। इसी बीच दूसरे पक्ष ने एसडीओ कोर्ट से 144 धारा लगवा दिया और जिसका फैसला भी मो.अमजद अली में आया। जिसके बाद भी चेवाड़ा सीओ भाग्य नारायण राय दूसरे पक्ष के प्रभाव में आकर अक्सर मो.अमजद अली को परेशान कर रहे है। इसी आलोक में शनिवार को सीओ भाग्य नारायण राय, विपक्षी के साथ उसके घर आ धमके और कहा कि हम विवादित स्थल का जांच करने पहुंचे है।

जब पीड़िता ने कहा कि जब इस स्थल का न्यायलय व एसडीओ कोर्ट ने डिक्री दे दी तो इसमें अब कैसी जांच चल रही है। जिसके बाद सीओ ने अन्य लोगों से पूछताछ किया। मो. अमजद अली उर्फ़ मोनी उर्फ ने बताया कि इस जमीन का विवाद एसडीओ कोर्ट में चल रहा था जिसका मुझे मेरे पक्ष में फैसला मिल चुका है, उसके बाद भी मुझे पता नहीं चल रहा है कि मेरे पक्ष में फैसला आने के बाद भी अब किस बात का निरीक्षण किया जा रहा है या जानकारी ली जा रही है। उन्होंने कहा कि सीओ विशेष व्यक्ति के प्रभाव में आकर बेवजह मुझे परेशान कर रहे है और विपक्षी पक्ष को न्यायलय में जाने की सलाह दे रहे है। उन्होंने कहा कि यदि इसी तरह से सीओ द्वारा मुझे परेशान करता रहा तो वह उक्त अधिकारी के विरुद्ध न्यायलय के शरण में जाएंगे। वहीं, सीओ ने कहा कि मैंने किसी भी स्थल की जांच नहीं की है। हालांकि जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें खुद सीओ, विपक्षी पार्टी एवं पुलिस बलों के स्थल पर खड़े हैं।

खबरें और भी हैं...