स्वास्थ्य केंद्र 24 घंटे रहेंगे खुले:छठ घाटों पर सुविधा और सुरक्षा के लिए अलर्ट है जिला प्रशासन

शेखपुरा22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जैसे-जैसे आस्था का महापर्व छठ नजदीक आता जा रहा है जिला प्रशासन भी घाटों पर व्यवस्था को लेकर अलर्ट दिखाई देने लगा है। घाटों पर श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। अधिकारी भी इन तैयारियों की समीक्षा के लिए मीटिंग के साथ ही ग्राउंड पर भी विजिट कर रहे हैं। इसी कड़ी में वरीय अपर समाहर्ता सत्य प्रकाश शर्मा ने छठ घाटों पर श्रद्धालुओं व छठ व्रतियों के लिए सभी आवश्यक सुविधा सुनिश्चित कराने तथा बेहतर प्रबंधन, समन्वय के लिए अधिकारियों व पूजा समिति के प्रतिनिधियों के साथ जिला समाहरणालय के मंथन सभागार में बैठक की तथा आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने पूजा समिति के प्रतिनिधियों की अपेक्षाएं तथा आवश्यक सुझाव/ समस्या एवं फीडबैक भी प्राप्त किया गया तथा उसका समाधान करने का निर्देश दिया।

समीक्षात्मक बैठक में वरीय अपर समाहर्ता ने कहा कि 10 से 11 नवम्बर को छठ पर्व मनाया जायेगा। छठ पर्व के अवसर पर विधि-व्यवस्था का संधारण करना जिला प्रशासन का महत्वपूर्ण दायित्व है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन के तरफ से छठ पर्व के अवसर पर 61 विभिन्न घाट, पोखर एवं तालाब पर दण्डाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी को 10 नवम्बर को 01 बजे से 11 नवम्बर को स्थिति सामान्य होने तथा छठ घाट पर द्वितीय अर्घ्य व भीड़ पूरी तरह से घाट पर समाप्त होने तक प्रतिनियुक्ति की गई है। बीडीओ, अंचलाधिकारी, प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, थाना एवं ओपी अध्यक्ष एवं प्रतिनियुक्त छठ पूजा समितियों के सदस्यों के साथ बैठक कर उन्हें छठ घाटों पर सभी आवश्यक तैयारी करने हेतु निर्देशित करेंगे। नियंत्रण कक्ष की स्थापना होगी जहां 24 घंटे अफसर-कर्मी रहेंगे। प्रखंड विकास पदाधिकारी सभी पूजा समितियों से कम से कम 10-15 स्वयं सेवक तथा शांति समिति के सदस्यों को निश्चित रूप से शामिल करेंगे।

वरीय अपर समाहर्ता ने बैठक कर पुख्ता इंतजाम का निर्देश दिया
वरीय समाहर्ता ने कहा कि ढाई-तीन फीट से अधिक पानी वाले जगहों पर पूजा समितियों से बांस गड़वा कर सुरक्षा वाल बनायेंगे तथा मजबूत रस्सी एवं स्थानीय तैराक को घाट पर रखने हेतु निर्देशित करेंगे। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी व अंचलाधिकारी अपने क्षेत्राधीन सभी घाटों का निरीक्षण कर लेंगे तथा असुरक्षित घाटों पर अर्घ्य नहीं होने देंगे और अधिक पानी वाले घाटों में बैरिकेडिंग कराना सुनिश्चित करेंगे तथा तैराक को उक्त स्थान पर तैनात किया जायेगा। बरबीघा और शेखपुरा नगर परिषद को सभी घाटों पर सारी व्यवस्था बैरिकेडिंग करने का निर्देश दिया गया है।

किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सभी स्वास्थ्य केंद्र 24 घंटे रहेंगे खुले
डीडीसी सत्येंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अपने अनुमंडल क्षेत्राधीन छठ पूजा पर्व के अवसर पर कोविड-19 के मद्देनजर गृह विभाग (विशेष शाखा), बिहार द्वारा जारी दिशा निर्देश का अनुपालन कराना सुनिश्चित करेंगे। सिविल सर्जन, जिला नियंत्रण कक्ष में एक एम्बुलेंस पूरी तैयारी के साथ प्रतिनियुक्ति करेंगे तथा सभी स्वास्थ्य केंद्रों, उपकेंद्रों अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र इत्यादि को किसी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने एवं 24 घंटे खुला रखते हुए चिकित्सकीय पदाधिकारी एवं कर्मी की उपस्थिति सुनिश्चित करेंगे।

खबरें और भी हैं...