पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आक्रोश:खाद नहीं मिलने पर फूटा किसानों का गुस्सा

चेवाड़ा2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सड़क जाम करते उग्र किसान। - Dainik Bhaskar
सड़क जाम करते उग्र किसान।
  • सड़क जामकर कर आक्रोशित किसानाें ने की जमकर नारेबाजी

चेवाड़ा प्रखंड में खाद की किल्लत ने किसानों की नींद उड़ा दी, इधर उधर भटकने के बावजूद खाद न मिलने से जीना मुश्किल हो गया है। मंगलवार की सुबह भी यूरिया खाद नहीं मिलने से नाराज किसान आक्रोशित हो गए और चेवाड़ा थाना के समीप शेखपुरा-सिकंदरा मुख्य मार्ग को जाम कर दिया तथा स्थानीय प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। इस दौरान किसान सुबोध कुमार, उपेंद्र यादव, क्रांति देवी, उदय यादव सहित दर्जनों किसानों ने बताया कि विगत कई दिनों से चेवाड़ा में यूरिया खाद को लेकर काफी दिक्कत हो रही है। स्थानीय अधिकारी की लापरवाही के कारण दुकानदार दुकान बंद किए हुए रहते हैं और रात में किसानों के लिए आने वाली खाद यूरिया-डीएपी को दुकानदार कालाबाजारी कर बिक्री करते हैं। किसान सुबोध कुमार ने बताया कि मंगलवार की सुबह जब वह खाद लेने बाजार पहुंचे तो दुकान बंद था। इसकी सूचना उन्होंने मोबाइल के माध्यम से सीओ और बीएओ को भी दिया, लेकिन किसी अधिकारी के द्वारा कोई पहल नहीं किया गया। धीरे धीरे वहां सैकड़ो किसान खाद मिलने की उम्मीद में जमा हो गए। जब किसानों का धैर्य जवाब दे गया तो किसानों ने शेखपुरा सिकंदरा मुख्य मार्ग को जाम कर दिया। किसानों ने आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय अधिकारी की संरक्षण पर दुकानदार खाद की कालाबाजारी कर रहे है। दुकानदारों द्वारा खाद की कालाबाजारी करने के बाद भी स्थानीय अधिकारी द्वारा करवाई नहीं करना खेद का विषय है।

अधिकारी भी नहीं सुन रहे किसानों ने की सड़क जाम
उग्र सभी किसानों ने प्रखंड कार्यालय पहुंच कर यूरिया खाद नहीं मिलने की शिकायत की एवं प्रखंड कृषि पदाधिकारी के बारे में भी शिकायत की, इस बात को बीडीओ के समक्ष रखा गया कि उनके द्वारा भी दुकानदारों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है और न किसानों के लिए खाद की कोई सुनिश्चितता की जा रही है। प्रखंड कार्यालय के पास सैकड़ों किसानों ने पहुंच कर बीडीओ तथा कार्यालय में मौजूद चेवाड़ा प्रखंड प्रभारी पदाधिकारी सोनी कुमारी को अपनी पीड़ा सुनाई। कोई कार्यवाही न होता देख किसानों ने सड़क जाम कर दिया।

खबरें और भी हैं...