पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

होली:शहर से लेकर देहात तक सुबह से लेकर शाम तक लोगों ने खेली होली

शेखपुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में रंगों का त्योहार होली पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक होली के पारंपरिक गीतों रंग बरसे भीगे चुनरवाली, होली खेले रघुवीरा, आदि गीतों पर युवा जगह-जगह थिरकते नजर आए। होली के पूर्व होलिका दहन से ही होली का रंग लोगों पर परवान चढ़ने लगा था। शहर से लेकर गांव तक कई जगह होलिका दहन की गई। ग्रामीण क्षेत्रों में होलिका दहन से पूर्व बुजुर्गों की टोली पारंपरिक होली गीत के साथ गांव भर में घूम-घूमकर उसके बाद पूरे विधि विधान के साथ असत्य पर सत्य की विजय होलिका दहन कार्यक्रम को संपन्न कराया गया।

कई स्थानों पर महिलाएं समूह में होली के गीत गाते हुए पूजा करने पहुंचे। गोबर से बनाएं बड़कुलो की माला के साथ इस वर्षों के धान व गेहूं के बलिया एवं चने के फसल भी चढ़ाए। होली की ज्वाला में इन्हें सेक कर प्रसाद के रूप में बांटा गया। कुल मिलाकर होली की परंपरा ग्रामीण परिवेश में ही देखने को मिली। सभी लोगों ने एक दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर बिना ऊंच-नीच का भेदभाव किए एक साथ सौहार्दपूर्ण तरीके से होली मनाई।

होली की पूर्व संध्या पर कई जगह पर होलिका दहन किया गया, सुबह से रंग खेलने का जो सिलसिला शुरू हुआ देर शाम तक अबीर-गुलाल लगाने तक चलता रहा

खुलेआम बिकती रही शराब
बिहार में शराबबंदी के बाद भी जिला मुख्यालय सहित जिले के अन्य क्षेत्रों में चोरी-छिपे जमकर देशी व विदेशी शराब की बिक्री हुई। बताया गया कि 1500 से 2000 हजार रुपए के बीच विदेशी शराब की जमकर बिक्री हुई। हालांकि होली के एक दिन पूर्व ही जिला पुलिस-प्रशासन के द्वारा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में काफी मुस्तैदी देखी गई। शहर एवं प्रखंड के संवेदनशील क्षेत्रों में चौक-चौराहों पर महिला व पुरुष पुलिस बल के जवानों को तैनात किया गया था। जिला प्रशासन की ओर से सख्त निर्देश दिया गया था कि असामाजिक एवं उपद्रवी तत्वों पर पैनी नजर रखें। लेकिन जिले के अलावे प्रखंडों में बहुत जगहों पर होलिका दहन के बाद रंगोत्सव के दिन कई स्थानों पर से पुलिस एवं मजिस्ट्रेट गायब रहे।

एक-दूसरे को गुलाल लगाकर पुआ-पकवान खा मनाया त्योहार
ग्रामीण क्षेत्र में ग्रामीणों के द्वारा एक दूसरे को रंग-गुलाल डालकर, कुर्ता फाड़कर एवं कीचड़ उड़ेल कर होली का जश्न एक नई उमंग, जोश, उत्साह के साथ मनाया। रंगों का त्योहार होली के पर्व में बूढ़े, बच्चे, युवा-युवती में जोश एवं उत्साह चरम पर छाया रहा। अहले सुबह लोगों के द्वारा कीचड़ की होली खेली गई। दोपहर बाद देर रात तक रंग एवं गुलाल लगाकर होली का जश्न मनाई गयी। ग्रामीण क्षेत्रों में पुरानी परंपरा का निवर्हन करते हुए ढोलक की थाप व हारमोनियम की धुन पर देर रात अवध में खेली होली राम, जोगीरा सारा रारा..... के धुन पर थिरकते एवं नाचते रहे। वहीं कहीं कहीं मटका फोङ होली का भी आयोजन किया गया।

राजोपुरम कॉलोनी के लोगों ने भी मनाई होली

राजोपुरम कॉलोनी के लोगों ने भी शिव मंदिर कैंपस में एकत्र होकर जमकर होली खेली। मंदिर कैंपस में मोहल्ले वाले एकत्र होकर एक दूसरे को रंग और गुलाल लगाएं तथा परंपरागत होली मनाई। लोगों ने गुलाल लगाकर एक दूसरे में भाईचारे का संदेश दिया तथा एक साथ मिलजुल कर रहने एवं एक दूसरे का साथ देने तथा तरक्की के मार्ग में एक दूसरे को मदद करने का संदेश दिया। इस अवसर पर बच्चों ने जहां बुजुर्गों का पैर छूकर आशीर्वाद लिया वही बड़े लोगों ने एक-दूसरे के माथे और गाल में गुलाल लगाया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें