पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पोस्टर:गजाली ने पोस्टर लगा पारस को बताया हिंसक पशु तो चिराग को बताया अर्जुन

शेखपुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला समाहरणालय के समीप खंभे में लगा पोस्टर। - Dainik Bhaskar
जिला समाहरणालय के समीप खंभे में लगा पोस्टर।
  • पोस्टर वार में गजाली ने खुद को कृष्ण के सारथी के रूप में दिखाया

शेखपुरा जिला में बागी सांसदों के प्रति चिराग समर्थकों में जबर्दस्त गुस्सा दिख रहा है। बुधवार को जहां बागी सांसदों के पोस्टर पर कालिख पोता था तो गुरुवार को पुतला दहन किया। वहीं, शुक्रवार को शहर के चौक-चौराहों पर पोस्टर लगाकर चर्चा में आ गए। पोस्टर में लोजपा के जिलाध्यक्ष इमाम ग़ज़ाली ने जहां चिराग पासवान को अर्जुन बताया है वहीं, पशुपति पारस के साथ अन्य बागी सांसदों को हिंसक पशु बताया है और खुद जिलाध्यक्ष इमाम ग़ज़ाली कृष्ण भगवान के रूप में रथ पर सारथी बने हुए है। पोस्टर में यह दर्शाया गया है कि कैसे चिराग पासवान बने अर्जुन अपने बाण से हिंसक पशु बने पशुपति पारस, प्रिंस राज, नवादा सांसद चन्दन सिंह, वीणा देवी, महबूब अली कैंसर को मारते हुए दिखाया गया है। पोस्टर पर यह भी लिखा हुआ है बुराई पर अच्छाई का जीत व चिराग पासवान आगे बढ़े हमसब तुम्हारे साथ है तथा चिराग पासवान से यारी में गद्दारी नहीं और गद्दारी चिराग पासवान से यारी नहीं। फिलहाल लगे इस पोस्टर से चर्चाओं का बाजार गर्म है।
बागी सांसदों काे मुहतोड़ जबाब दिया जाएगा
इस बाबत जिलाध्यक्ष इमाम ग़ज़ाली ने बताया कि जिले के सभी कार्यकर्ता चिराग पासवान के साथ हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में लोजपा के कारण जदयू को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ था। तभी से जदयू लोजपा को लगातार टारगेट कर रही थी। आज उन्हें मौका मिल गया है। आज पार्टी में जो टूट हुई है, उसके लिए जदयू जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि पांचों सांसदों ने गद्दारी करते हुए “रामविलास पासवान की झोपड़ी” में आग लगाने की कोशिश की है। इससे कार्यकर्ता ही नहीं, आम जनता भी काफी दुखी है। बाद में कुछ धार्मिक संगठनों का विरोध बढ़ने पर शहर से पोस्टर को हटवा दिया गया।

खबरें और भी हैं...