पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुबह 9 बजे ही सड़कों पर पसर जाता है सन्नाटा:घर में उमस तो बाहर तीखी धूप से लोग हो रहे परेशान

शेखपुरा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हिट वेव से हर लोग परेशान हैं। घर में उमस वाली गर्मी तो बाहर तीखी धूप ने दिक्कतें बढ़ाकर रख दी है। सुबह होने के बाद दिन के चढ़ने के साथ ही तीखी धूप से लोगों का सामना हो रहा है। जिससे जन जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। रविवार की सुबह में जहां पारा 30 डिग्री था तो वहीं दोपहर होते-होते पारा चढ़ते हुए 37 डिग्री तक पहुंच गया। जिससे गर्मी और भी ज्यादा पड़ी।

मौसम विशेषज्ञ की मानें तो अभी फिलहाल इससे राहत मिलता हुआ नहीं दिख रहा है। गर्मी का ऐसा असर है कि लोग मजबूरीवश घरों में दुबके पड़े हैं। जिससे कारण दोपहर में बाजार में भी सन्नाटा छाया रह रहा है। शाम होने के बाद ही लोग बाजार करने व अन्य कामों से घरों से निकल रहे हैं। लेकिन देर शाम तक उन्हें गर्म हवा की मार झेलनी पड़ रही है। गर्मी का असर सभी उम्र के लोगों पर दिख रहा है। खासकर बच्चे इसके चपेट में ज्यादा आ रहे हैं।

वहीं, भीषण गर्मी में शेखपुरा शहरवासियों के सामने पेयजल संकट का भी सामना करना पड़ रहा हैं। शेखपुरा शहर के निवासी पहाड़ की तलहटी में बसे होने के कारण हर साल गर्मी के मौसम में पानी की किल्लत का सामना करने को मजबूर होती है। पेयजलापूर्ति का व्यवस्था होने के बाद भी गर्मी में लगातार गिर रहे जलस्तर के कारण पानी की किल्लत झेलने को मजबूर होते हैं। शहर के समीपवर्ती पुरनकामा, मटोखर, धरमपुर सहित अन्य पहाड़ी इलाकों में भी पानी की समस्या झेलने को मजबूर है।

हिट वेव के कारण छतों पर रखी टंकियों से नलों में गर्म पानी निकल रहा है। रविवार को दोपहर में पारा 37 डिग्री के पार था। जिसके कारण नलों से निकल रहा पानी खौलते पानी से कम नहीं था। जिससे लोगों को घरों के कार्य करने में भी परेशानी हो रही थी। वहीं, गर्मी के कारण लू लगने के मामले भी काफी आ रहे हैं। गर्मी बढ़ने के साथ ही जिले में जल संकट गहराने लगा है। कुआं सूखने लगे हैं। हैंडपंप भी जवाब देने लगे हैं। कई इलाकों में लोग पानी के लिए त्राहिमाम कर रहे हैं। जिले के कई क्षेत्रों में सप्लाई वाटर भी नियमित मिलना बंद हो गया है।

खबरें और भी हैं...