पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना अपडेट:शुक्रवार को जिले में 84 लोग नए संक्रमित पॉजिटिव का आंकड़ा अब 4000 के पार

शेखपुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जांच के लिए सैम्पल लेते चिकित्सक। - Dainik Bhaskar
जांच के लिए सैम्पल लेते चिकित्सक।
  • दो लोगों की कोरोना ने छीनी सांसंे, बावजूद कोविड-19 गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे हैं लोग

जिले में प्रतिदिन कोरोना का रफ्तार बढ़ता जा रहा है। वही, 37 दिनों के अंदर कोरोना संक्रमण के 40000 के आंकड़े को पार कर गई है। जिसमें शुक्रवार को भी 84 संक्रमित मिले हैं। जिसके बाद जिले में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4186 हो गई है। इसके साथ ही शुक्रवार को 2 लोगों की कोरोना ने जीवन लीला समाप्त कर दी। जिससे जिले में मरने वालों की संख्या बढ़कर 80 हो गई है। इसके बावजूद भी लोगों के द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर कोविड-19 के नियम का पालन नहीं किया जा रहा है। लॉकडाउन के कारण शहर में सुबह 07 से 11 बजे तक की दुकानें खुली रह रही है। इस दौरान जिला प्रशासन के द्वारा निर्देशों की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। लोग अपनी जान की परवाह किए बगैर आवश्यक सामान की खरीदारी करने में जुटे हुए हैं।

जैसे उन लोगों को कोरोना के कहर के बारे में जानकारी ही नहीं। लोग जानबूझकर कोरोना को अपने घरों में आमंत्रण दे रहे हैं। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से जिले के हालात दिन प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है। यह स्थिति बरकरार रही तो जिले के प्रत्येक घरों में कोरोना का कहर होगा। चारों ओर चीख-पुकार मची होगी। इसके बचाव को लेकर बिहार सरकार के द्वारा पूरे बिहार में लॉकडाउन लागू किया गया है। बावजूद लोग अनुपालन नहीं कर रहे हैं। जिससे आने वाले दिनों में जिले वासियों के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है। लोगों को संक्रमण से बचाव को लेकर कोविड नियमों का पालन करना चाहिए। उनके द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार आवश्यक कार्य से ही घर से बाहर निकले और घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग करें एवं सोशल डिस्टेंस का पालन करें।

गंभीर रूप से कोरोना संक्रमितों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती कर रहे

कोरोना संक्रमित मरीज की रफ्तार में लगातार वृद्धि
कोरोना संक्रमित मरीज की रफ्तार में लगातार वृद्धि हो रही है। शुक्रवार को भी 84 संक्रमित मिले हैं। इसके बावजूद संक्रमण के प्रति लोग सतर्क नहीं हो रहे हैं। जिससे आने वाले दिनों में लोगों के लिए काफी घातक साबित हो सकती है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शेखपुरा से 5, शेखोपुरसराय 47, अरियरी से 4, घाटकुसुम्भा से 4, चेवाड़ा से 11 एवं बरबीघा से 13 संक्रमित मरीज पाए गए हैं। जिसे स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कोरोना किट उपलब्ध कराकर होम आइसोलेशन में रखा गया है। इसके साथ ही गंभीर रूप से कोरोना संक्रमित वाले लोगों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती कर लगातार डॉक्टरों की निगरानी में रखी जा रही है। वहीं, टेलीमेडिसिन के माध्यम से होम आइसोलेशन में रह रहे संक्रमितों का लगातार ख्याल रखा जा रहा है। किसी भी समस्या होने पर तुरंत चिकित्सा सलाह देकर संबंधित पीएचसी से संपर्क करने का सलाह दिया जा रहा है।
जिले में मौत का आंकड़ा 80 पर पहुंचा
शहर के जखराज स्थान स्थित कोविड केयर सेंटर में लगातार संक्रमित की मौत हो रही है। जिसमें शुक्रवार को भी एक कोरोना संक्रमित की मौत हो गई। इसके साथ ही सदर अस्पताल में सांस लेने में तकलीफ होने पर भर्ती किए गए एक व्यक्ति की मौत हो गई। जिसके बाद जिले में कुल मौत की संख्या बढ़कर 80 हो गई है। मिली जानकारी के अनुसार चेवाड़ा के बीसीएम विश्वनाथ प्रसाद की मां कोरोना संक्रमित होने पर गंभीर अवस्था में कोविड-19 सेंटर में भर्ती किया गया था। जिसे ऑक्सीजन पर रखा गया था। जहां शुक्रवार को सांस लेने में तकलीफ होने के कारण उसकी मौत हो गई। इसी प्रकार कोरमा गांव निवासी उगन देव साव सांस लेने में तकलीफ होने पर परिजनों के द्वारा सदर अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां शुक्रवार को सदर अस्पताल में उसकी मौत हो गई।
269 लोगों ने कोरोना से जीती जंग
संक्रमण के बीच बड़ी संख्या में लोग स्वस्थ होकर अपने घर लौट रहे हैं जो जिले के लिए राहत भरी खबर है। जिसमें शुक्रवार को भी 269 लोगों ने कोरोना से जंग जीत कर अपने घर वापस लौटे हैं। स्वास्थ विभाग से मिली जानकारी के अनुसार प्रतिदिन सैकड़ों संक्रमित मरीज स्वस्थ हो रहे हैं। जिसमें अब तक 1743 लोगों ने कोरोना से जंग जीतकर अपने घर जा चुके है। सिविल सर्जन डॉ.कृष्ण मुरारी प्रसाद ने बताया कि प्रतिदिन मिल रहे हैं संक्रमित मरीजों को हम आइसोलेशन में रखा जा रहा है।

खबरें और भी हैं...