पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

खेती- किसानी:खेतों में मुरझा रही धान की बाली, किसान निराश

शेखपुरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसान इस वर्ष फसल को देखकर काफी उत्साहित थे, लेकिन एकाएक बाली मुरझाने लगी

खेतों में धान की बाली सूख रही है। जिससे किसान निराश हैं। किसानों का कहना है कि इस वर्ष धान का बीज बोने के समय से अब तक बारिश बहुत कम हुई है। प्रखंड क्षेत्र में धान की फसल अच्छी है। आधे से अधिक खेतों में बाली निकल चुकी है। किसान इस वर्ष के फसल को देखकर काफी उत्साहित थे। लेकिन एकाएक बाली सूखने लगी है।

स्थानीय किसान अरविंद सिंह, उपेंद्र शर्मा, रामप्रवेश प्रसाद सिंह, सीता प्रसाद, मुकेश प्रसाद, देवराज प्रसाद, अखिलेश कुमार सिंह, विजय कुमार ने कहा कि अधिकांश किसान 125 से 140 दिनों में तैयार हो जाने वाले धान में ज्यादा रुचि लेते है। महीन धान जैसे सुपर मोती, कंचन, जौहर, रियाल सम्राट आदि की फसल लगाते हैं। अधिक क्षति इसी किस्म के धान में हो रही है। यदि बाली नही सूखती तो इस बार अच्छी फसल की उम्मीद थी।
बाली निकलते समय की बारिश ने पहुंचायी क्षति
किसानों का कहना है कि काना नक्षत्र के अंत एवं हथिया नक्षत्र की शुरुआत में धान की बाली निकलनी शुरू हो जाती है। इस बार बाली निकलते समय हुई बारिश से फसल को नुकसान हुआ है। साथ ही खेतों में भी जरूरत से ज्यादा पानी हो गया। पानी जमा हो धान के गभा में भी पानी चला गया। जिसके कारण धान की बाली सूखने लगी।
दवा का भी असर नही
किसानों ने कहा कि कीटनाशक छिड़काव के बाद भी कोई असर नहीं हुआ। फसल बर्बाद हो रहा है। फसल बचाने के सारे उपाय असफल रहे। पूंजी और मेहनत दोनो बर्बाद गई। प्रखंड कृषि पदाधिकारी राजमणी प्रसाद ने कहा कि उन्हें इस तरह की शिकायत लगातार मिल रही है। अपने स्तर से भी वह जानकारी जुटा रहे हैं। क्षति का आकलन कर आगे की कार्रवाई के लिए जिला को भेज दिया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप सभी कार्यों को बेहतरीन तरीके से पूरा करने में सक्षम रहेंगे। आप की दबी हुई कोई प्रतिभा लोगों के समक्ष उजागर होगी। जिससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा तथा मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। घर की सुख-स...

और पढ़ें