पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई:कृषि विभाग के प्रधान लिपिक को निगरानी की टीम ने 20 हजार नकदी के साथ दबोचा

शेखपुराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंक्रीमेंट बढ़ाने के नाम पर कृषि समन्वयक से 2-2 हज़ार रुपए की कर रहा था वसूली

जिला कृषि विभाग के प्रधान लिपिक रविंद्र कुमार को घूस लेने के दौरान निगरानी विभाग की टीम ने गिरफ्तार किया है। पटना से पहुंची निगरानी विभाग की टीम ने 20 हजार रुपये का घूस ले रहे प्रधान लिपिक को रंगे हाथ दबोच लिया तथा फिर अपने साथ पटना ले गयी। निगरानी टीम की इस कार्रवाई के बाद प्रशासनिक महकमे में पूरी तरह हड़कंप मच गया। जानकारी के मुताबिक कृषि समन्वयक सुनील कुमार ने कृषि विभाग के प्रधान लिपिक रविंद्र कुमार पर इंक्रीमेंट बढ़ाने के नाम 2-2 हज़ार रुपए लेने का आरोप लगाया है।

वहीं, जो समन्वयक घूस नहीं दे रहे थे उनका इंक्रीमेंट रोक दिया जा रहा था। तत्पश्चात इसकी लिखित शिकायत कृषि समन्वयक ने पटना के निगरानी विभाग में कर दी। निगरानी की टीम ने इसकी सत्यता की जांच कर इसका ट्रैप किया और कृषि विभाग के कार्यालय में रिश्वत लेने के क्रम में प्रधान लिपिक को निगरानी की टीम ने दबोच लिया। पटना से पहुंचे निगरानी विभाग के डीएसपी बीके वर्मा की अगुवाई में यह कार्रवाई की गई। जिस समय प्रधान लिपिक रविंद्र कुमार को निगरानी टीम द्वारा दबोचा गया उस समय वह जिला कृषि कार्यालय में समन्वयकों से इंक्रीमेंट बढ़ाने के नाम पर घूस ले रहे थे। उसी समय पीड़ित भी रिश्वत का रुपया लेकर प्रधान लिपिक को देने पहुंचा था। इस दौरान निगरानी विभाग की ने भी अपना जाल बिछा रखा था और इसी जाल में वह फंस गए।

इंक्रीमेंट बढ़ाने के नाम 2-2 हज़ार रुपए लेने का आरोप लगाया है

अब तक कई लोगों को निगरानी विभाग कर चुकी है गिरफ्तार
रिश्वत लेने के मामले में शेखपुरा जिले के अधिकारी, पुलिस के साथ-साथ बैंक मैनेजर व कर्मी को निगरानी विभाग की टीम गिरफ्तार कर चुकी है। जिसमें भू-अर्जन पदाधिकारी मो.कामिल अख्तर, शेखपुरा थाना के एसआई अरुण कुमार सिंह, अनुमंडल कार्यालय के पेशकार खुर्शीद आलम, सर्व शिक्षा अभियान के लिपिक अनिल पासवान, सहकारिता विभाग के लिपिक सुभाष चंद्र बोस, शेखोपुरसराय प्रखंड अंतर्गत ग्रामीण बैंक के मैनेजर, ग्रामीण कार्य विशेष प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता को निगरानी विभाग की टीम ने घूस लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर चुकी है। बावजूद रिश्वतखोर अपने कारनामों से बाज़ नहीं आ रहे है।

कृषि विभाग में भ्रष्टाचार बड़े पैमाने पर, कागजों पर होता है काम
जिले के विभिन्न कार्यालयों के साथ-साथ जिला कृषि कार्यालय में बड़े पैमाने पर भष्ट्राचार हावी है। इस मामले में कृषि समन्वयक के इंक्रीमेंट बढ़ाने के नाम पर कृषि पदाधिकारी शिवदत्त सिन्हा की भूमिका से इंकार नहीं किया जा सकता है। इसके पूर्व भी कृषि पदाधिकारी लाल बचन राम के कई कारनामे भी उजागर होते रहे हैं और एक ऑडियो वीडियो भी वायरल हुआ था। हाल में ही यूरिया की कालाबाज़ारी हुई थी और प्रति बैग एक सौ रुपए अधिक कीमत बाजार में बेचीं गयी उसमें भी कृषि कार्यालय में कार्यरत कई अधिकारी की भूमिका की बात कही जा रही है। सूत्रों की माने एक बड़े खाद्य व्यवसाई ने कालाबाज़ारी को अंजाम देने के लिए कई तरीके से कृषि विभाग के अधिकारियों को लाभान्वित किया था।

जिले के कई विभाग निगरानी के रडार पर
जिले के कई विभाग निगरानी के रडार पर है। इस मामले में कई शिकायत निगरानी में दर्ज है। हालाँकि सिर्फ समय की इंतज़ार निगरानी विभाग कर रही है। विश्वस्त सूत्रों की माने तो जिले के कई निर्माण कार्य विभाग यथा पीचईडी, आरईओ, भवन निर्माण, पीडब्लूडी सहित सात निश्चय से जुड़े कई पंचायत के सचिव व मुखिया निगरानी की नज़र में है। निगरानी को इन विभागों में व्याप्त भ्रष्ट्राचार, रिश्वत नहीं देने पर काम में आनाकानी तथा चहेते से काम कराए जाने की जांच की शिकायत निगरानी को लगातार मिल रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें