पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

दर्दनाक घटना:गोड्डा से पटना लौट रहे कार ने सड़क किनारे खड़े ट्रक में मारी टक्कर, मौके पर ही मां-बेटे की मौत

शेखपुरा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नेमदारगंज के समीप हुआ हादसा, वाहन के गेट को तोड़कर ग्रामीणों ने घायल पत्नी व पुत्र को निकाला
  • गाड़ी में ही दबकर मर गए मां और बेटे, ग्रामीणों का आरोप- हमेशा सड़क किनारे लगा रहता है ट्रक

झारखंड के गोड्डा से पटना लौटी रही एक वैगनअार कार ने नेमदारगंज गांव के समीप सड़क किनारे खड़े एक ट्रक में टक्कर मारी दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि वाहन के परखचे उड़ गए। जिसमें सवार पति व सास की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि गंभीर रूप से घायल पत्नी व उसके बच्चें को स्थानीय ग्रामीणों ने कार का गेट तोड़कर बाहर निकाला। इस दौरान लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी।

वहीं, घटना के एक घंटे के बाद मौके पर पहुंची हथियावां ओपी पुलिस ने दोनों घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसका इलाज चल रहा है। इस बाबत इलाजरत महिला नीलम देवी ने बताया कि शनिवार की अहले सुबह गोड्डा (झारखण्ड) स्थित अपने घर की मरम्मत करवाकर पति राजेश प्रियदर्शी, सास जयमंती देवी एवं पुत्र दिव्यांश कुमार के साथ वैगनआर कार से वापस पटना लौट रहे थे और उनके पति राजेश प्रियदर्शी खुद ही ड्राइव कर रहे थे।

एनएच-333ए पर हुई दुर्घटना
इसी क्रम में शेखपुरा जिले के नेमदारगंज गांव के समीप एनएच 333ए के समीप उसके पति को झपकी आयी और सड़क किनारे लगे एक ट्रक में टक्कर मार दी। इस दौरान ट्रक में टकराने के बाद हुई तेज़ आवाज़ एवं उसके द्वारा मदद की सहायता पर आसपास के ग्रामीण पहुंचे और किसी तरह कार का दरवाजा तोड़कर उसे बाहर निकाला। इस दौरान कार दाहिने साइड से ट्रक में टकराने से उसके पति व सास की दबकर मौत हो गयी है। इस दौरान ग्रामीणों में क्षतिग्रस्त कार को तोड़कर सास को निकाला जबकि पति बुरी तरह कार में दबे रहने के कारण क्रेन से शेखपुरा लाया गया और कार को काटकर उसे निकाला।

सड़क किनारे ट्रक खड़े रहने के कारण अक्सर होती रहती है दुर्घटना

एनएच 333 ए के सड़क किनारे दर्ज़नों की तादाद में लगने वाली ट्रक से अक्सर दुर्घटनाएं होती हैं। बावजूद इस जिला प्रशासन द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं की जाती है। बताया जाता है कि नेशनल हाइवे 333 ए स्थित एकसारी बीघा, बिहटा, नेमदारगंज, कॉलेज मोड़ आदि जगहों पर सड़क के किनारे सैकड़ों ट्रक खड़े रहते हैं जिसके कारण वाहनों को आवागमन में परेशानी होती है। इस दौरान यदि मामूली भी चूक होती है ताे एेसे हादसे हाेते रहते हैं।

हाल ही के दिनों में कॉलेज मोड़ के समीप एक ट्रक ने एसकेटीपीएल कम्पनी के एमडी संजय कुमार गोप की वाहन में जबदस्त टक्कर मार दी। इस घटना में एमडी बाल-बाल बच गए जबकि उनकी वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। इसके आलावा इन्दाय पर मुहल्ले के एक होटल संचालक की ट्रक की चपेट में आने से मौत हो गयी थी। इसके बावजूद भी जिला प्रशासन द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं किया जाता है। वहीं, ट्रक संचालक कहते है कि उनके पास ट्रक रखने की जगह नहीं रहने के कारण वह सड़क किनारे रखते है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें