कार्रवाई:महीने भर के अंदर ही खुल गए सील किये गये अवैध अल्ट्रासाउंड सेंटर

शेखपुराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शेखपुरा नगर परिषद क्षेत्र में कई अल्ट्रासाउंड सेंटर व पैथोलॉजी सेंटर चलाये जा रहे है। स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े वरीय अधिकारियों द्वारा समय-समय पर इनकी जांच भी की जाती है। पिछले महीने तत्कालीन प्रभारी सिविल सर्जन डॉ.वीरेंद्र प्रसाद के द्वारा सदर अस्पताल के नजदीक अभियान चलाकर देवी अल्ट्रासाउंड, शेखपुरा अल्ट्रासाउंड, नालंदा अल्ट्रासाउंड एवं बरबीघा में एक अल्ट्रासाउंड सेंटर की जांच की गई। इस दौरान इन अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर भारी अनियमितता देखी गयी। किसी भी अल्ट्रासाउंड सेंटर पर रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर उपलब्ध नहीं थे। साथ ही अल्ट्रासाउंड केंद्र में कई सुविधाओं की घोर कमी देखी गयी। जिसको लेकर प्रभारी सिविल सर्जन डॉ.वीरेंद्र प्रसाद ने सभी अल्ट्रासाउंड केंद्रों को सील कर दिया था। हालांकि अब ये सब अल्ट्रासाउंड केंद्रों को फिर से संचालित किया जा रहा है। जिसको लेकर लोगों ने हैरानी जताई है। वही नगर परिषद क्षेत्र में दर्जनों ऐसे पैथोलॉजी सेंटर चलाये जा रहे है। जिनको पूर्व में ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा सील किया जा चुका है। वही सील किये अल्ट्रासाउंड केंद्रों को महीने भर में ही खुलने पर कई सवाल उठ खड़े हुए है। इस बारे में पूछे जाने पर पूर्व प्रभारी सिविल सर्जन डॉ.वीरेंद्र प्रसाद ने बताया कि इन अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर टेक्नीशियन एवं डॉक्टरों की उपलब्धता कराए जाने को लेकर नोटिस दी गयी थी एवं इन केंद्रों को सील किया गया था। जिसके उपरांत सभी अल्ट्रासाउंड केंद्रों में टेक्नीशियन एवं डॉक्टरों की उपलब्धता सुनिश्चित कर केंद्र को खोलने की आज्ञा मांगी थी।

खबरें और भी हैं...