पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निष्पादन:मामलों के निष्पादन में शेखपुरा अनुमंडल लोक शिकायत कार्यालय पूरे बिहार में दूसरे स्थान पर

शेखपुरा15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 218 मामलों का वैकल्पिक सुझाव के तहत निष्पादन किया गया

बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के तहत जिले में संचालित अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय जिले वासियों के लिए वरदान साबित हो रही है। जहां पर फरियाद लेकर आ रहे परिवादी की समस्या का जल्द से जल्द निपटारा किया जा रहा है। सबसे ज्यादा बिजली एवं जमीन संबंधित मामलों का अधिक निपटारा किया जा रहा है। बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम द्वारा जारी रैंकिंग में शेखपुरा जिले का अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय पूरे बिहार में दूसरे स्थान पर रहा है। जिसमें बताया गया है कि अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय में अब तक 5047 परिवाद दायर हुआ है, जिसमें से 4594 स्वीकृत किए गए।

जबकि, 218 मामलों का वैकल्पिक सुझाव के तहत निष्पादन किया गया है। वहीं, 88 परिवाद को अस्वीकृत किया गया। वहीं, कार्यालय में 7 सितंबर तक कुल 4900 परिवारों का निष्पादन किया गया। अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय में दायर परिवाद का 97.09 प्रतिशत मामलों का निष्पादन किया गया है, जिसमें 147 मामले लंबित है। जिसको लेकर आगे की कार्रवाई की जा रही है। बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के द्वारा अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय को 83.10% अंक दिया है। वहीं, जिला लोक शिकायत निवारण कार्यालय में अब तक 2169 परिवाद दायर किया गया। जिसमें से 1070 मामले को स्वीकृत किया गया। जबकि 635 मामले का का वैकल्पिक सुझाव एवं 437 परिवाद को अस्वीकृत किया गया। वहीं, कार्यालय में 7 सितंबर तक कुल परिवारों का 2142 निष्पादन किया गया। जिले भर में दायर परिवाद का 98.76% परिवाद का निपटारा किया गया है। इसके साथ ही अब भी जिले में 26 मामले लंबित है।

खबरें और भी हैं...