पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हंगामा:जिसे स्वास्थ्य विभाग ने किया था मृत घोषित, वही युवक अब जिंदा मिला

शेखपुरा18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारियों के हाथ-पांव फूले, मामले को दबाने की कोशिश जारी
  • खुद के मृत होने की जानकारी मिलने के बाद अस्पताल पहुंच किया हंगामा

सदर अस्पताल में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक युवक पहुंचकर खुद को जिन्दा होने प्रमाण देने लगे। जिसके बाद मौजूद अधिकारी व कर्मियों के हाथ-पांव फूलने लगे कि आखिर इतनी बड़ी गलती कैसे हुई। दरअसल, स्वास्थ्य विभाग ने एक जिन्दा युवक को मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद युवक को इसकी जानकारी मिलने पर वह सदर अस्पताल परिसर में हंगामा मचाना शुरू कर दिया। इस दौरान मौजूद कर्मी मामले को दबाने में जुटे दिखे। जिसके बाद मौके पर पहुंची दैनिक भास्कर की टीम को युवक ने अपनी आपबीती बताई।

वहीं, कर्मी ने बताया कि कोरोना से मौत की रिपोर्ट आने के बाद मृतकों की जांच की जा रही है। सदर प्रखंड के धरमपुर गांव निवासी स्व.बृजनंदन राम के पुत्र अरविन्द कुमार ने बताया कि शनिवार की देर शाम को सदर अस्पताल से उसके मोबाइल पर फोन आया कि आप मृतक अरविन्द के परिजन बोल रहे है, जिस पर युवक अरविन्द ने कहा कि वह तो जिन्दा है और कौन आपको कहा कि मेरी मौत हो गयी है। जिस पर सदर अस्पताल के कर्मी ने कहा कि विभिन्न अस्पतालों से आये रिपोर्ट के अनुसार आपकी मौत हो गयी है। यदि आप जिन्दा है तो उससे संबंधित प्रमाण पत्र लेकर सदर अस्पताल आना होगा। जिसके बाद अरविन्द रविवार की सुबह सदर अस्पताल पहुंचा और डॉक्टर और कर्मियों को काफी खरी-खोटी सुनाई। दरअसल, दूसरी स्ट्रेन के कोरोना ने जिले में कई लोगों को अपना शिकार बनाया है। जिसमें कई लोगों की जानें चली गई। वहीं, जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग कोरोना से हुई मौत के आंकड़े एवं पॉजिटिव की संख्या को लगातार छुपाती रही। जिसे दैनिक भास्कर लगातार उजागर करता रहा।

खबरें और भी हैं...