कोरोनावायरस / लॉकडाउन में मिली छूट तो लोग हुए लापरवाह, जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर हो गई 46

The relaxation of the lockdown has left people careless, the number of corona infected in the district has increased to 46
X
The relaxation of the lockdown has left people careless, the number of corona infected in the district has increased to 46

  • शहर के बुधौली बाजार, चांदनी चौक, कटरा चौक पर सुबह से शाम तक उमड़ रही है लोगों की भीड़
  • डीएम ने क्वारेंटाइन केंद्रों का जायजा लिया और सम्बंधित अधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश दिए

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:07 AM IST

शेखपुरा. जिले के कोरोना संक्रमित मरीजो की संख्या लगातार बढ़ोतरी हो रही हैं, जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 46 हो गयी हैं। वहीं, जिले में लॉकडाउन में थोड़ी से छूट मिलने का बाद सोशल डिस्टेंस की लोग जमकर धज्जियां उड़ा रहे हैं। जबकि खतरा पहले की तुलना में कहीं ज्यादा है। लेकिन लोग इसे हल्के में ले रहे हैं, पर यह लापरवाही भारी पड़ सकती है। छूट मिलने के प्रथम दिन से ही शहर के बुधौली बाजार, चांदनी चौक, कटरा चौक सुबह-शाम पूरी तरह भीड़ से पटी हुई दिखी।

शहर में आवाजाही पहले की तुलना में काफी बढ़ चुकी है। सुबह से शाम तक लोग ऐसे सरपट सड़कों पर भाग रहे, जैसे मानों जिले में कोई लॉकडाउन है ही नहीं। सड़कों पर जाम जैसे स्थिति उत्पन्न होनी शुरू हो गयी है। प्रखंडों का भी हाल कुछ ऐसा ही हाल है। जिले भर में लॉकडाउन 1.0 व लॉक डाउन 2.0 व लॉक डाउन 3.0 तो किसी तरह गुजर गया। लेकिन लॉकडाउन 4.0 के दौरान जिले में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है इसके बावजूद जिलेवासी बेपरवाह होकर सड़कों पर आकर सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ा रहे हैं।

पहले तो कई प्रशासनिक कार्रवाई और बल प्रयोग से लोग के द्वारा लॉकडाउन का पालन हुआ। लेकिन अब लॉक डाउन 3.0 और 4.0 में विशेष दिशा निर्देश के बाद कुछ क्षेत्रों में छूट मिली। इसके बाद अब भ्रम सा उत्पन्न हो गया है या कुछ लोग जानबुझकर बेपरवाह बने हुए हैं। सुबह-शाम सड़कों पर लोग बेवजह निकल रहे हैं। सब्जी मंडी में भीड़ ही भीड़ नजर आ रही है। जिले के अलग-अलग बैंकों में भी भारी भीड़ जुट रही है। जहां कोरोना को न्योता देने जैसा का नजारा दिख रहा है। जिला प्रशासन द्वारा कोई सख्त कदम भी नहीं उठाया जा रहा हैं, लिहाजा जनता को ही अब समझना होगा।

वहीं पंचायत स्तर पर बने क्वारेंटाइन सेंटरों पर कुव्यवस्था को लेकर लगातार हंगामा किया जा रहा हैं। इसको लेकर शुक्रवार को डीएम ने कई क्वारेंटाइन केंद्रों का जायजा लिया और सम्बंधित अधिकारियों को कई आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। 
क्वारेंटाइन सेंटर पर नहीं है साफ-सफाई की व्यवस्था
पैन में पंचायत स्तर पर बने क्वारेंटाइन सेंटर में साफ-सफाई की व्यवस्था भी नहीं की गई है। यहां सैनिटाइज भी नहीं किया गया है। जिससे कोरोना संक्रमण की बढ़ने की संभावना और भी बढ़ सकती है। आक्रोशित प्रवासी ने कहा कि साफ-सफाई नहीं रहने के कारण कोरोना से पहले अन्य बीमारी का शिकार हो सकते हैं। वहीं क्वारेंटाइन सेंटर में किसी प्रकार की सुरक्षा बल को तैनात नहीं किया गया है। जिसके कारण क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासी आसानी से गांव का भ्रमण कर रहे हैं। जिनपर प्रशासन के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। जिससे गांव भी संक्रमण बढ़ने की पूरी संभावना बताई जाती है। वहीं सुरक्षा के नाम पर सिर्फ स्कूल के प्रधानाचार्य को द्वार पर बैठे रहते हैं। वहीं, औंधे गांव में बने क्वारेंटाइन सेंटर की कुछ ऐसी ही तस्वीर सामने आयी है।   
पॉलिटेक्निक कॉलेज में हुआ था हंगामा, डीएम पहुंची
शेखोपुरसराय प्रखंड अंतर्गत शेखोपुरसराय प्रखंड के खुड़िया गांव में बने में क्वारेंटाइन सेंटर में डिग्निटी किट नहीं मिलने से नाराज़ प्रवासियों द्वारा हंगामा मचाए जाने के बाद तीसरे दिन शुक्रवार को अधिकारियों के साथ डीएम इनायत खान ने पहुंचकर जायजा लिया। जिसके बाद उन्होंने कहा कि इस केन्द्र पर करीब 1000 से अधिक प्रवासी नागरिक निवास कर रहे हैं। उनके कमरों में जाकर प्रवासी नागरिकों से फीडबैक लिया जहां प्रवासियों ने बताया कि डिग्निटी किट के तहत अंग वस्त्र, मच्छरदानी उपरोक्त सभी सामान उपलब्ध कराया गया है और ससमय नाश्ता भी मिल रहा है। इस दौरान डीएम किचन की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना