सदर बाजार की घटना:महुली में जेवर की दुकान का शटर तोड़कर गहने और नकदी समेत तीन लाख की चोरी

शेखपुरा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
चोरी की घटना के बाद दुकान के बाहर उमड़ी भीड़। - Dainik Bhaskar
चोरी की घटना के बाद दुकान के बाहर उमड़ी भीड़।
  • डॉग स्क्वायड से जांच के बावजूद पुलिस के हाथ अबतक हैं खाली

जिले के महुली ओपी अंतर्गत सदर बाजार में गुरुवार की देर रात चोरों ने एक जेवर दुकान का शटर तोड़कर दुकान में रखे जेवर व नगदी सहित करीब 3 लाख रुपये के समान लूट लिए। चोरी की घटना सोहदी गांव निवासी शुकन साव के पुत्र मनोज साव की दुकान में अंजाम दिया गया है। उक्त दुकान महुली थाना से महज कुछ दूरी अवस्थित है और पुलिस को खबर तक नही लगी। सुबह के वक़्त लोगों ने जेवर दुकान का शटर टूटा देखा तो स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना महुली थाना को दिया।

विदित हो कि महुली बाजार में चोरों द्वारा हमेशा जेवर दुकान को ही निशाना बनाया जाता है और आज तक चोरी में संलिप्त चोर आज तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। वहीं, इस घटना के विरोध में स्थानीय लोगों ने बाजार बंदकर शेखपुरा-आढा सड़क मार्ग जामकर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। लोगों ने घंटों सड़क को बांस-बल्ली से अवरुद्ध कर टायर जलाकर मार्ग पूरी तरह बाधित कर दिया। सड़क जाम रहने के कारण महुली बाजार के दोनों ओर गाड़ियों की लंबी लाइन लग गयी। जिससे शेखपुरा एवं नवादा जिला की ओर आने-जाने वाले लोग जाम में फंसकर घंटो परेशान हुए।

सड़क जाम कर दुकानदारों ने पुलिस के विरुद्ध जताई नाराज़गी
सड़क जाम कर रहे दुकानदारों ने बताया कि महुली थाना बगल में होने के बावजूद इस तरह की घटना घट जाती है और पुलिस को भनक तक नही लगती। जब थाना के बगल में ये हाल है तो बाजार के अन्य दुकानों को चोर आसानी से चोरी की घटना दे देंगे। इस तरह पहले भी कई जेवर दुकान में चोरी की घटना हुई है। जिसका सुराग आज तक पुलिस को नही मिला है और चोर बेख़ौफ़ होकर बार-बार चोरी की घटना को अंजाम दे रहे है। वही इस मामले में पीड़ित जेवर दुकानदार मनोज साव ने बताया कि चोरों ने मेरे दुकान से 3 किलो चांदी एवं 20 ग्राम सोने की जेवरात व अन्य सामानों की चोरी हुई है। जिसकी कुल कीमत लगभग तीन लाख रुपए है। वहीं, सूचना पर डीएसपी कल्याण आनंद ने लोगों को समझाकर सड़क जाम हटवाया। घटना के बाबत डीएसपी कल्याण आनंद ने बताया कि चोरी की घटना को लेकर छानबीन की जा रही है।

कोरोना के कारण फैली बेरोजगारी व आर्थिक तंगी भी चोरी की मुख्य वजह
चोरी के घटना के विरोध में लोगों द्वारा सड़क जाम में फंसे कुछ लोगों ने बताया कि इस तरह की घटना अगर बार-बार हो तो लोगों का प्रशासन के प्रति नाराजगी जायज है। राज्य सरकार के निर्देश के बाद 21 जनवरी तक रात्रि कर्फ्यू लागू है। जिसका फायदा चोर भी उठाते है। अगर कोई आम इंसान रात के वक़्त सड़क पर घूमते या कही जाते पाए जाते है तो पुलिस प्रशासन उनको रोककर ढेरो सवाल करती है। जिससे कोई दुकानदार रात के वक़्त दुकान की ओर नही आता। दूसरी ओर, चोरों की इसकी कोई चिंता नही होती।

एसपी से मिला दुकानदारों का प्रतिनिधिमंडल मिला

महुली बाजार में बार-बार हो रही चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने को लेकर महुली बाजार के दुकानदारों का एक प्रतिनिधिमंडल ने शेखपुरा एसपी कार्तिकेय के.शर्मा से मिला। उन्होंने एसपी से मिलकर बाजार में सुरक्षा की गुहार लगाई। इस पर एसपी ने सुरक्षा का पूरा आश्वासन दिया। मौके पर पीड़ित मनोज साव, तेली समाज के पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेंद्र साव सहित दर्जनों दुकानदार मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...