प्रशासन बेखबर:नल-जल योजना से घर-घर पेयजल पहुंचाने को लेकर सड़क तोड़कर छोड़ी, परेशानी

शेखपुरा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिकायत के बाद भी अब तक नहीं की गई संवेदक पर कार्रवाई

बिहार सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नल-जल के तहत लोगों के घरों तक पानी पहुंचाने के लिए पाइप बिछाने का काम जोरों से चल रहा है। जिसको लेकर संबंधित ठेकेदार तोड़ी गई सड़क की मरम्मत नहीं करा रहे। इससे स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है। जिले के विभिन्न प्रखंडों क्षेत्र में नल-जल योजना में केवल पाइप लगाकर खानापूर्ति की गई है।

इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि उक्त योजना में नप के संवेदकों ने राशि निकासी कर बंदरबांट कर ली है। मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत हर घर नल जल योजना पूरे नगर से लेकर गांव तक असफल साबित हो रही है। उक्त योजना को पूरा करने को ले सरकार के सख्ती के कारण आनन फानन में नप, नल जल योजना को जैसे तैसे पूरा कर अपनी उपलब्धि गिनाने में लगी है। वहीं, शेखपुरा नगर परिषद क्षेत्र के बुधौली, बंगाली पर, अम्बेकर नगर मुहल्ला के साथ जिले के चेवाड़ा प्रखंड, शेखोपुरसराय, घाटकुसुम्भा, अरियरी सहित विभिन्न प्रखंडों में नलजल योजना के तहत कार्य किया गया।

जिसके तहत पीसीसी सड़कों को एवं मुख्य सड़कों को संवेदक तोड़ फोड़ कर तेजी से पाइप बिछाने के बाद अधूरा छोड़ दिया गया हैं। संवेदकों द्वारा सड़क को तोड़ कर पाइप बिछाकर टूटे सड़क को उसी अवस्था में छोड़ देने पर संवेदकों पर नगरवासियों व ग्रामीणों का गुस्सा चरम सीमा पर है।

खबरें और भी हैं...