पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Silaw
  • As Soon As The News Is Published In Bhaskar, The Change Of Voice Of The Panchs, The Police Is Also Ready To Help The Innocent

भास्कर इम्पैक्ट:भास्कर में खबर प्रकाशित होते ही पंचों के सुर बदले इधर पुलिस भी बेगुनाह की मदद को अब है तैयार

सिलाव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सिलाव प्रखंड की पवाडीह पंचायत के चमरडीहा गांव में पंच परमेश्वर द्वारा एक बेगुनाह को चोर साबित कर जुर्माना वसूला गया था

सिलाव प्रखंड के पवाडीह पंचायत के चमरडीहा गांव में पंच परमेश्वर द्वारा एक बेगुनाह को चोर साबित कर जुर्माना वसूला गया था। वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले को दैनिक भास्कर ने शुक्रवार को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। जिसके बाद पंच परमेश्वर बने लोगों में हलचल तेज हो गयी है। पुलिस भी बेगुनाह को इंसाफ दिलाने के लिये तेजी से जांच में जुट गई है। बता दें कि चमरडीहा गांव के मिश्री यादव की ट्रैक्टर चोरी हुई थी। चोरी की घटना के बाद गांव के ही बल्लम चौधरी के इशारे पर ट्रैक्टर चोरी का आरोप गांव के युवक पंकज कुमार पर लगा दिया गया था। जिसके बाद पंचायत लगाकर बेगुनाह युवक को चोर करार देते हुए तीन लाख जुर्माना लगाया गया। दबंगता के आगे बेबस होकर पंकज ने कर्ज लेकर पंचायत के समक्ष तीन लाख जुर्माने की राशि जमा कर दी थी। जब पंकज को पता चला कि चोरी हुई ट्रैक्टर के साथ चोर पकड़ा गया है तो पंकज ने पंचों से आरजू मिन्नत कर अपना पैसा वापस दिलाने को कहा।

सच्चाई जो है कहीं बोल सकते हैं: जिप सदस्य
पंच बने सिलाव दक्षिणी के जिला परिषद सदस्य सतेन्द्र पासवान ने बताया कि जो भी सच्चाई है वह कहीं भी बोल सकते हैं। ट्रैक्टर और चोर पकड़े जाने के बाद पंकज क को पैसा वापस मिलना चाहिये। उन्होंने बताया कि ट्रैक्टर मालिक मिश्री यादव पर दबाव बनाया था लेकिन उसकी मंशा सही नहीं है। अब तो मिश्री यादव अपना मोबाइल भी ऑफ कर लिया है। बता दें कि एक दिन पूर्व इन्होंने ही मिश्री यादव को दबंग बताते हुए पैसा वापस दिलाने से हाथ खड़ा कर दिया था।

हर हाल में पैसा लौटाना होगा
पंच के रूप में फैसला सुनाने वाले पवाडीह पंचायत के मुखिया दिनेश राम ने कहा कि जो हुआ वह गलत है। एक निर्दोष को कलंकित होना पड़ा था। साथ ही हर्जाना भी वसूला गया था। उन्होंने बताया कि ट्रैक्टर मिल जाने के बाद उन्होंने कई बार मिश्री यादव को पैसा लौटने के लिये कहा है। लेकिन उसकी नियत ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि अब मामला आगे बढ़ गया है।

युवक चाहे तो पंच पर होगी कार्रवाई
थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने कहा कि मामले की जानकारी के बाद पुलिस द्वारा सख्ती बरती जा रही है। एक निर्दोष को पंचायत लगाकर दोषी करार देते हुए तीन लाख जुर्माना वसूला गया है। इसमें पंच द्वारा जो कार्य किया गया है वह अपराध की श्रेणी में आता है। इस मामले में पीड़ित चाहे तो पंच पर भी कार्रवाई की जा सकती है।

खबरें और भी हैं...