बवाल:बड़का राजपुर में वैक्सीन लेने के दौरान लोगों के बीच कई बार हुई हल्की झड़प

सिमरी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शुक्रवार को कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन देने का कार्यक्रम पूर्व से मध्य विद्यालय बड़का राजपुर में तय किया गया था। इस दौरान सुबह से ही ग्रामीण वैक्सीन के लिये बने कैम्प में एकत्रित होने शुरू हो गये और देखते ही देखते कुछ ही घंटों में हजारों की संख्या में वैक्सीन लेने के लिए लोग एकत्रित हो गए थे।

जैसे ही लोगों को पता चला की मात्र ढाई सौ वैक्सीन ही इस कैम्प के लिए दिया गया है। तो इस बात पर लोग उग्र हो गए और लगे हंगामा करने इसके बाद वैक्सीनेशन कार्यक्रम को बंद कर पुलिस को बुलाना पड़ा लेकिन हंगामा इतना बढ़ा की पुलिस भी लोगों को अपने हाल पर छोड़कर खुद तमाशबीन बनी रही। वहीं पहले हम तो पहले हम की तर्ज पर धक्का-मक्की कर हंगामे करते रहे। इस दौरान ग्रामीणों के बीच पहले वैक्सीन लेने को लेकर कई बार आपस में झड़प हुई इस दौरान वैक्सीनेशन कार्यक्रम को बंद करना पड़ा। इसी सिलसिले के बीच वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलता रहा।

इस पूरे वैक्सीनेशन कार्यक्रम के दौरान पुलिस की मौजूदगी में जमकर कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां उड़ाई गई। ग्रामीणों ने बताया कि इस वैक्सीनेशन कार्यक्रम के दौरान पंचायत चुनाव में भाग लेने वाले कई प्रतिनिधि अपने श्रेय लेने के चक्कर मे अपने चहेतों को सुलभ तरीके से वैक्सीन दिलवाने के लिये कर्मचारियों से सांठगांठ बनाकर पिछले दरवाजे से भेज रहे थे।

जिसके कारण अन्य लोग आक्रोशित हो जा रहे थे। हालांकि काफी शोर-शराबे के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो कुछ देर के लिये हंगामे पर नियंत्रित कर लिया गया। लेकिन हंगामे पूर्ण रूप से बंद नहीं हुआ अंत में यह सब देख पुलिस भी मुख दर्शक की भूमिका में स्थल पर बैठ गयी। इस संबंध में मौके पर मौजूद सहायक अवर निरीक्षक गोपाल जी ने बताया की कैंप में महिलाओं एवं पुरुषों की संख्या काफी संख्या में थी। लेकिन कैम्प में कोई महिला पुलिस बल की तैनाती नहीं की गई थी। जिसके कारण पुलिस के समक्ष हंगामा शांत कराने को लेकर परेशानी उत्पन्न हो रही थी। हालांकि दैनिक भास्कर संवाददाता द्वारा वैक्सीनेशन कैम्प की वस्तु स्थिति से तिलक राय के हाता ओपी प्रभारी संतोष कुमार को अवगत कराया गया।

खबरें और भी हैं...